फरीदाबाद बार एसोसिएशन ने सुधा भारद्वाज की गिरफ़्तारी का किया विरोध प्रदर्शन

0
82

जयपुर। फरीदाबाद जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष ने पंजाब और हरियाणा की बार काउंसिल के अध्यक्ष को लिखा है कि वह मानवाधिकार वकील सुधा भारद्वाज की गिरफ्तारी का विरोध करते है और उनसे आग्रह करते है की वो भी इस गिरफ़्तारी के लिए विरोध प्रदर्शन करे।

आपको बता दे की भारद्वाज भी उन पांच कार्यकर्ताओं में से है जो भीम कोरेगांव हिंसा के मामले में घर गिरफ्तार है। वकीलों वर्नन गोंसाल्व्स और अरुण फेरेरा, कार्यकर्ता गौतम नवलाखा, लेखक और कार्यकर्ता वारावरा राव  और भारद्वाज पर  भारत के अवैध कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) संघटन से संबंध होने के आरोप है।

फरीदाबाद जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विवेक कुमार द्वारा हस्ताक्षरित एक पत्र में कहा गया है, “फरीदाबाद बार एसोसिएशन वकील सुधा भारद्वाज और उन सभी वकीलों की गिरफ़्तारी का विरोध करता है जिन्हें बिना किसी सबूत के गिरफ्तार किया गया है। हम पंजाब और हरियाणा की बार काउंसिल से अनुरोध करते है कि वो भी वकीलों को इस तरह से निशाना बनाए जाने का विरोध करे।”

कुमार ने कहा कि एसोसिएशन मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के खिलाफ पुलिस कार्रवाई से चिंतित था। यह 28 अगस्त को भारद्वाज, फेरेरा और गोंसाल्व की गिरफ्तारी और जून 2018 में वकील सुरेंद्र गडलिंग की गिरफ्तारी ने कहा, “उन वकीलों पर हमला दर्शाता है जो समाज में सबसे हाशिए पर पहुंचे हुए समाज का बचाव कर रहे है।”

आपको बता दे की 28 अगस्त को पुणे पुलिस की टीमों ने भीम कोरेगांव में जाति से संबंधित हिंसा के मामले  में मुंबई, रांची, दिल्ली, फरीदाबाद और गोवा में कई कार्यकर्ताओं की गिरफ़्तारी करी थी।

सुप्रीम कोर्ट ने कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी और आदेश दिया कि उन्हें गुरुवार को अगली सुनवाई तक घर गिरफ्तार किया जाएगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here