विशेषज्ञों ने कहा, शहरी परिवहन स्मार्ट शहर मिशन का आधार

0
53

देश भर में स्मार्ट शहरों के विकास का काम शुरू करने वाले स्टार्टअप को बढ़ावा देने के उद्देश्य से टाई दिल्ली-एनसीआर ने शुक्रवार को स्मार्ट सिटीज सम्मेलन 2018 के दूसरे संस्करण की मेजबानी की। सम्मेलन में विशेषज्ञों ने कहा कि शहरी परिवहन स्मार्ट शहर मिशन का आधार है। सम्मेलन में पीडब्ल्यूसी के निदेशक निदिश नायर ने कहा, “स्मार्ट सिटीज मिशन में 2.04 लाख करोड़ रुपये का निवेश अनुमानित किया गया है। विभिन्न स्मार्ट शहर प्रस्तावों के हमारे विश्लेषण के अनुसार, शहरी परिवहन (16.6 फीसदी), क्षेत्रीय विकास (15 फीसदी), आर्थिक विकास (12.7 फीसदी), और ऊर्जा (10.1 फीसदी), शीर्ष प्राथमिकता वाले क्षेत्र हैं। 99 स्मार्ट शहरों के लिए सरकार द्वारा प्रस्तावित स्मार्ट समाधानों में नवीनीकरण और स्टार्टअप के लिए बहुत सारे अवसर उपलब्ध हैं, जो निश्चित रूप से इस परिवर्तन में परिभाषित भूमिका निभाएंगे।”

इस साल के शिखर सम्मेलन में के.पी.एम.जी के एसोसिएट डायरेक्टर सिद्धार्थ अबी द्वारा प्रस्तुत एक और स्मार्ट सिटी रिपोर्ट भी प्रदर्शित हुई। उन्होंने स्मार्ट शहरों के विकास और विकास के क्षेत्रों पर प्रकाश डाला, जो टेक्नॉलजी पर जोर देते हैं और पर्यावरण पर कम प्रभाव के साथ उत्पादकता में वृद्धि करते हैं।

दिल्ली-एन.सी.आर के कार्यकारी निदेशक गीतिका दयाल ने कहा, “टाई दिल्ली-एनसीआर की स्मार्ट सिटी पहल विचारधारा को बढ़ावा देने, महत्वाकांक्षी उद्यमियों को परामर्श करने में सक्षम रही हैा और हमारा मिशन वहां समाप्त नहीं होता है – हम उद्यमियों को चुनौतियों के माध्यम से मार्गदर्शन, फंड रेजिंग से उत्प्रेरित और उनके लिए नेटवर्क बनाने की दिशा में काम करते रहेंगे।”

इस कार्यक्रम में सरकारी अधिकारियों, उद्यमियों और उद्योग से निवेशकों और हितधारकों के साथ पहल से जुड़े स्टार्टअप द्वारा अंतर्दृष्टि सत्र शामिल थे।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here