FY21 में भारत की GDP में 9% की कमी की उम्मीदें : ADB

0

31 मार्च 2021 को समाप्त होने वाले वित्त वर्ष 2021 के लिए भारत का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 9% तक सिकुड़ने का अनुमान दिख रहा हैं , क्योंकि देश में आर्थिक गतिविधि और उपभोक्ता खरीद की दर को कोरोना महामारी ने भारी प्रभावित किया है। इन आंकड़ों को एशियाई विकास बैंक ( एडीबी ) के द्वारा जारी किया गया है। जून में, एडीबी ने चालू वित्त वर्ष में देश के सकल घरेलू उत्पाद में 4% की कमी की भविष्यवाणी की गई थी।

India's GDP expected to contract 9% in FY21: ADB | India Post News Paperयासुयुकी सवादा, मुख्य अर्थशास्त्री, एडीबी के द्वारा यह कहा गया है , “ जहाँ पर भारत में महामारी के प्रसार को रोकने के लिए सख्त रूप से लॉकडाउन के उपायों को लागू किया गया है और इससे आर्थिक गतिविधियों पर गंभीर रूप से प्रभाव भी देखा जा रहा है। कोरोना के प्रसार को रोकने और अगले वित्त वर्ष की अर्थव्यवस्था को संभालने के बाद से स्थायी मंच प्रदान करने के लिए उपचार उपायों , मजबूत परीक्षण, ट्रैकिंग और उपचार क्षमताओं को सुनिश्चित करने के रोकथाम उपायों को लगातार लागू किया गया हैं। ”

India's GDP expected to contract 9% in FY21: ADB | Sambad Englishएशियाई विकास आउटलुक (एडीओ) 2020 के नए अपडेट में एडीबी के द्वारा वित्त वर्ष 2022 में अर्थव्यवस्था के लिए एक मजबूत रिकवरी का अनुमान लगाया है, जिससे की जीडीपी की दर में 8% की बढ़त को देखा गया है क्योंकि गतिशीलता और व्यावसायिक गतिविधियां अधिक व्यापक रूप से शुरू होने वाली हैं।

India's GDP expected to contract 9% in FY21: ADB - Daijiworld.comरिपोर्ट के अनुसार, नकारात्मक जोखिमों में सार्वजनिक और निजी ऋण स्तर को बढ़ावा मिलना शामिल किया गया है जो की प्रौद्योगिकी और बुनियादी ढांचे के निवेश को प्रभावित कर सकता है, साथ ही साथ यह महामारी के कारण बढ़ते गैर-लाभकारी ऋण जो की वित्तीय क्षेत्र को कमजोर कर सकते हैं उनके आर्थिक विकास का समर्थन करने की क्षमता को आसानी से कम कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here