Exit Poll: दक्षिण भारत में अब भी खिलता नहीं दिख रहा कमल

0
46

जयपुर। रविवार को लोकसभा चुनावों के बाद अंतिम चरण का मतदान हो चुका है और इसके बाद कहीं एग्जिट पोल सामने आए जिसमें 23 मई को आने वाले नतीजों से पहले पूर्वानुमान लगाया है, लेकिन एग्जिट पोल में यह बताया गया कि एक बार फिर से देश में एनडीए की सरकार बनने जा रही है. लेकिन इस बार भी दक्षिण भारत में भारतीय जनता पार्टी के लिए खबर अच्छी नहीं है.

दक्षिण भारत में सबसे पहले तमिलनाडु की बात करें तो यहां पर इंडिया टुडे के एक्सिस माय इंडिया के पोल के मुताबिक डीएमके को 38 में से 34 सीटों पर जीत हासिल हो रही है. वहीं एमपी एबीपी न्यूज़ के अनुसार यहां पर एआईडीएमके को 37 सीटें हासिल हो रही है. वहीं भारतीय जनता पार्टी के खाते में 1 सीटें आ रही है. न्यूज़ चाणक्य की बात करें तो बीजेपी और एआईएडीएमके के गठबंधन को 6 सीटें हासिल करते हुए बताया गया है और डीएमके कांग्रेस की गठबंधन को 31 सीटें हासिल करते हुए बताया गया है.

वहीं यह हाल आंध्र प्रदेश में भी देखा गया है आंध्र प्रदेश में बी एस आर कांग्रेस पार्टी को 20 सीटें मिल सकती है पीडीपी को 5 सीटें मिलती हुई बताई गई या पौधे की राज्य में कुल 25 लोकसभा की सीटें आती है. वही इंडिया टुडे के सर्वे के मुताबिक टीडीपी को महज 406 सीटें मिल सकती है. वह वाईएसआर कांग्रेस को 18 से 20 सीटें मिलती हुई दिख रही है .वहीं कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी का खाता भी आंध्रप्रदेश में नहीं खोलते हुए बताया जा रहा है और न्यूज़ चाणक्य की सर्वे के मुताबिक की डीपी को आंध्र प्रदेश में 17 सीटें हासिल हो रही है.

तेलंगाना में भी टीआरएस को 17 सीटों में से 15 सीटों पर जीत हासिल हो रही है कांग्रेस को एक बार एम आई एम को 1 सीटें मिल रही है. वहीं यह सर्वे एबीपी न्यूज़ का है इंडिया टुडे के सर्वे में भी भारतीय जनता पार्टी को एक या दो सीटें मिलने का ही अनुमान है और News24 के चाणक्य ने भी कांग्रेस को एक अन्य को 2 सीटें और टीआरएस को 14 सीटें दी है. लेकिन भारतीय जनता पार्टी को एक भी सीट मिलना मुश्किल बताया जा रहा है. वही कर्नाटका केरला में भी इसी तरीके के हाल कांग्रेस पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के लिए नजर आ रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here