एग्जिट पोल ईवीएम से छेड़छाड़ का गेमप्लान : ममता बनर्जी

0
26
Kolkata: West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee reacts on the interim Budget 2019, at a press conference in Kolkata, Friday, Feb 1, 2019. (PTI Photo) (PTI2_1_2019_000198B)

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोकसभा चुनाव के एग्जिट पोल के नतीजों को ‘गप’ करार देते हुए रविवार को कहा कि यह ‘हजारों ईवीएम को बदलने और उनसे छेड़छाड़ करने का गेमप्लान’ है। उन्होंने विपक्षी नेताओं से मजबूती के साथ एकजुट रहने को कहा।

तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने कहा, “मैं एग्जिट पोल की गपबाजी में यकीन नहीं करती। इस गप के जरिए हजारों ईवीएम को बदल देने और उनसे छेड़छाड़ करने का गेमप्लान काम कर रहा है।”

उन्होंने कहा, “मैं सभी विपक्षी राजनैतिक दलों से एकजुट, मजबूत और निडर होने की अपील कर रही हूं। हम मिलकर इस संघर्ष को लड़ेंगे।”

लगभग सभी एग्जिट पोल में भाजपानीत राजग को बहुमत या बहुमत के पास दिखाया गया है। ऐसा अनुमान लगाया गया है कि भाजपा पश्चिम बंगाल में 16 से 18 सीट जीत सकती है। 2014 में पार्टी ने केवल दो सीट ही राज्य में जीती थीं।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleवोडाफोन, जियो और एयरटेल यूजर्स ​जानिये 28 दिन वैलिडिटी वाले प्लान के बारे में
Next articleचुनावी नतीजे आने तक साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने ‘मौन व्रत’ धारण किया
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here