ईवीएम भरोसे के लायक नहीं, बैलट पेपर वापस लाने की जरूरत : आम आदमी पार्टी

0
853

जयपुर। 2019 के लोकसभा के चुनाव नजदीक हैं और उससे पहले लंदन में एक सनसनीखेज प्रेस कांफ्रेंस हुई जिसके बाद से अब ईवीएम को लेकर सवाल वापस खड़े हो चुके हैं और इस इन सबके बीच आम आदमी पार्टी ने बुधवार को आगामी लोकसभा चुनाव में पुराने आजमाए जा चुके बैलेट पेपर से फिर से इस्तेमाल किए जाने की मांग को दोहराया है.

पार्टी ने यह मांग लंदन में एक हैकर द्वारा इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन ईवीएम में हैकिंग के दावों के बाद करी है वही पार्टी ने मांग करिए की पूरी स्थिति में सभी विपक्षी दलों को चुनाव के बहिष्कार का ऐलान करना चाहिए.

वहीं इस मामले को लेकर कांग्रेस ने भी एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करी थी और उनका कहना था कि अब लोकसभा के चुनाव काफी नजदीक है ऐसे में बैलट पेपर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता लेकिन चुनाव आयोग को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद जिन विवि पैड का इस्तेमाल किया जा रहा है 50% जगहों पर वीवीपट से दोबारा गिनती की जाए ताकि इव्य पर उठाए सवालों में कमी लाई जा सके.

वहीं आप के राज्यसभा सांसद और उत्तर प्रदेश के प्रभारी संजय सिंह ने आयनेस्को बताया कि लोकतंत्र को बचाने और चुनावी प्रक्रिया में एक बार फिर से लोगों का विश्वास स्थापित करने के लिए जरूरी है कि ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से चुनाव कराया जाए वही आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि इन हालिया खुलासों से स्पष्ट रूप से ईवीएम की निष्पक्षता धूमिल हुई है और इसलिए उनकी जगह बैलट पेपर का इस्तेमाल किया जाना चाहिए.

वहीं इस मामले को लेकर पार्टी के प्रदेश इकाई के मुख्य प्रवक्ता वैभव महेश्वरी ने दावा करते हुए कहा कि चुनाव आयोग का यह मानने के लिए तैयार नहीं है कि ईवीएम से छेड़छाड़ हो सकती है पार्टी नहीं जिनकी  इतनी विश्वसनीयता पर संदेह जताते हुए सभी राजनीतिक दलों से मांग किए हुए भारत के चुनाव आयोग को यह लिखित में दे की अगर आने वाले लोकसभा के चुनाव में ईवीएम का इस्तेमाल हुआ तो वह चुनाव का बहिष्कार करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here