हिमयुग में भी रहते थे इंसान, कनाडा के पास मिले पैरों के निशान

हिमयुग में भी रहते थे इंसान, कनाडा के पास मिले पैरों के निशान दुनिया में हिमयुग में भी इंसान रहते थे, नई खोज ने इस बात की पुष्टि कर दी है

0
96

जयपुर। अक्सर कहा जाता है कि हिमयुग में विशालकाय हिममानव निवास करते थे, जिन्हें येती भी कहा  जाता हैं। कई बार इनके अस्तित्व को लेकर कई तरह के सवाल उठाए गए हैं। मगर फिलहाल एक नया चौंकाने वाला खुलासा किया गया है। नए चौंकाने वाले अध्ययन के नतीजे बताते हैं कि हिमयुग में भी इंसान का वजूद हुआ करता था।

इसे भी देख लीजिए:- जेनेरिक दवाइयों की हकीकत क्या है आखिर?

जी हां, नई खोज ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि हिमयुग में भी इंसान का अस्तित्व था। दरअसल हाल ही में कनाडा के पास खुदाई के दौरान मिले पैरों के निशान ने यह बात जाहिर कर दी है कि उस युग मे भी मानवीय सभ्यता रहा करती थी। फिलहाल यह बात जांची जा रही है कि पैरों के निशान जिस तरफ जा रहे हैं, वह किस ओर इशारा करता है। उत्तरी अमेरिका के इस इलाके में मिले पैरों के निशान ने सारी दुनिया के पुरात्वविदों को चकित कर दिया हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कनाडाई समुद्री तट के पास में खुदाई के दौरान ये पदचिह्न पाये गये हैं। आर्कियोलॉजी विशेषज्ञों ने जब इस इलाके की खुदाई की तभी उन्हें अचानक से इंसानी पैरों के निशान नजर आ गए। शुरूआती जांच में यही पाया गया कि यह कोई मामूली से निशान होंगे। मगर बाद में विस्तार से तफ्तीश करने पर मालूम चला कि यह निशान तो दरअसल इतिहास के अनछुए कदमों के निशान थे।

इसे भी देख लीजिए:- जिस महीने में आप पैदा हुए वह भी आपके व्यक्तित्व को…

फिलहाल इस खोज ने एक नई बहस को जन्म दे दिया है। आर्कियोलॉजी दल ने ऐसे कुल 29 निशान हासिल करने में कामयाबी हासिल की हैं। यह इलाका ब्रिटिश कोलंबिया के कालवर्ट द्वीप के पास वाले समुद्री तट का है। इस खुदाई में कई और भी इंसानी हथियार और कृषि यंत्र भी बरामद हुए हैं। कार्बन डेंटिंग से इन पैरों के निशान की उम्र लगभग 13 हजार साल आंकी गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here