वार्ता के बाद भी अफगान शांति पर नहीं बनी सहमति, तालिबान ने कहा हम युद्ध के लिए बाध्य

0
104

जयपुर, अमेरिकी सेना और अफगान की अन्य क्षेत्रिय शक्तियों के बीच चल रही बातचीत किसी निष्कर्ष तक नहीं पुहंची है। जिससे अमेरिका और उसके सहयोगियों के खिलाफ चल रहा तनाव तत्काल खत्म होता दिखाई नहीं दे रहा है। समाचार चैनल डॉन ने तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद के एक वीडियो दिखाया है। जिसमें कहा गया है कि ‘हम युद्ध के लिए बाध्य हैं।

क्योंकि हमारे दुश्मन हम पर हमला कर रहे हैं। इसी के चलते हम भी उनसे लड़ रहे हैं। बता दें कि साल 2001 में 9/11 के आतंकी हमले के बाद अमेरिका ने अफगानिस्तान में तालिबान के खिलाफ युद्ध छेड़ रखा है। लेकिन अभी भी तालिबान शक्तिशाली बना हुआ है।

बता दें कि अफगानिस्तान के आधे हिस्से पर अब भी तालिबान का कब्जा है। गौरतलब है कि पिछले माह दोहा में तालिबान के प्रतिनिधियों के साथ अमेरिकी प्रतिनिधियों की बात के बाद कहा गया था कि दोनों के बीच सुलह की बातचीत प्रगति पर है।

इसी के चतलते अमेरिकी प्रतिनिधि जालमे खलीलजाद ने ट्वीट में कहा कि अमेरिका ने तालिबान के साथ शांति वार्ताओं में उल्लेखनीय प्रगति की है। साथ ही उन्होंने कहा था कि हमने फ्रेमवर्क का एक मसौदा बनाया है। जिसे अंतिम रूप देने पर विचार करना होगा।Image result for अफगानिस्तान शांति वार्ता

उन्हेंने यह भी कहा था कि तालिबान अफगानिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय आतंकियों का ठिकान नहीं बनने देगा। तब से वह अमेरिका के इस सबसे लंबे युद्ध को खत्म करने की कोशिश में सभी पक्षों से मिल चुके हैं। बता दें कि अफगानिस्तान में युद्ध को चलते हुए 17 साल हो चुके हैं। लेकिन अभी तक भी शांति कायम नहीं हो सकी है। साथ ही इस युद्ध में अमेरिका अब तक करीब 2400 सैनिक खो चुका है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here