हम छोड़ चले हैं भाजपा को याद आए कभी तो मत रोना

0
97

जयपुर। एससी एसटी एक्ट में संशोधन से नाराज सवर्ण समाज का खामियाजा लगातार बीजेपी को भुगतना पड़ रहा है। सवर्ण समाज के भारत बंद का असर सिर्फ मध्य प्रदेश, राजस्थान और बिहार में ही दिखा।लेकिन इन राज्यों में असर इतना बड़ा रहा है की बीजेपी के कई नेता अब अपनी पार्टी छोड़ रहे है।

खबर आ रही है की सवर्ण समुदाय की नाराजगी के चलते कई बीजेपी नेता अपनी पार्टी छोड़ रहे है। बताया जा रहा है की टीकमगढ़ की भाजपा महिला मोर्चा की मंडल उपाध्यक्ष रजनी नायक ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। इसके साथ ही भाजपा युवा मोर्चा के चार सवर्ण पदाधिकारियों ने भी इस्तीफा दिया है जिसमें अभिषेक गंगेले, सचिन विदुआ, संकल्प विदुआ और संजय रावत शामिल है।

वहीं कटनी जनपद अध्यक्ष कन्हैया तिवारी ने महाबंद में शामिल होकर बीजेपी की सदस्यता त्याग दी। कन्हैया तिवारी ने कहा कि वे एससी-एसटी कानून के विरोध में पार्टी छोड़ रहे है। रीवा के मऊगंज से पूर्व विधायक और बीजेपी नेता लक्ष्मण तिवारी ने भी एससी एसटी एक्ट के विरोध में भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे डाला।

6 सितम्बर को हुए भारत बंद के बाद से ही ये इस्तीफों का दौर शुरू हो गया है। जिसके चलते कई सवर्ण नेताओ ने अब तक अपने इस्तीफे दे दिए है।

स्वर्ण समाज हमेशा से बीजेपी को वोट देता आया है ऐसे में जब बीजेपी ही कुछ ऐसा नियम या एक्ट का समर्थन कर रही है जो उन्हें लगता है की उनके खिलाफ है।ये बात स्वर्ण समाज के लोगों को धोखे जैसी साबित हो रही है, उन्हें लग रहा है की आज देश में स्वर्ण समाज कमजोर हो गया है। जिसके चलते आज देश में ये विरोध हो रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here