डॉक्टरों के हड़ताल से बढ़ी परेशानी : दिल्ली में 1000 सर्जरी टलीं, 40 हजार मरीजों को नहीं मिला इलाज

0
60

जयपुर। राजधानी दिल्ली में डॉक्टरों की हड़ताल के चलते हुए शुक्रवार को करीब 6 अस्पतालों में 1000 से भी अधिक सर्जरी को टालना पड़ा और लगभग 40000 मरीजों को उनका उचित इलाज नहीं मिल सका है.

आपको बता दें कि दिल्ली के 6 बड़े अस्पतालों में शुक्रवार को हड़ताल की वजह से सर्जरी जांच वॉर्ड की सेवाएं और ओपीडी सेवाएं बंद रही और इन अस्पतालों में एम से सफदरजंग लोकनायक जी बी पंत गुरु तेग बहादुर अस्पताल और गुरु नानक देव नेत्र चिकित्सा जैसे बड़े बड़े अस्पताल शामिल हुए हड़ताल से प्रभावित अस्पतालों में लगभग 40000 मरीजों का इलाज प्रभावित हुआ है और उसमें ही अकेले लगभग 10000 मरीज ओपीडी में आते हैं और उनका इलाज आज प्रभावित हुआ है.

वहीं मीडिया में जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि वरिष्ठ डॉक्टरों और कई डॉक्टरों के आज हड़ताल पर होने से एम्स में करीब 650 सर्जरी ओं को टालना पड़ा में हड़ताल को छोड़कर इमरजेंसी को छोड़कर अधिकतर सर्जरी ओं को रद्द कर दिया गया में सफदरजंग अस्पताल में भी लगभग 200 लोकनायक अस्पताल में 100 जी बी पंत में 80 जीटीबी अस्पताल में 50 और गुरु नानक देव नेत्र चिकित्सालय में 40  को रद्द करने की खबर मीडिया रिपोर्ट के जरिए सामने आ रही है.

वहीं अब इन टैली हुई सर्जरी ओं की अगली तारीख कैसे मिलेगी और कब होगी इसकी अभी तक कोई जानकारी नहीं है वहीं मरीजों में पहले ही आपको बता दें कि 14 जून की तारीख ली थी अब उन्हें अस्पताल पहुंचने के बाद हड़ताल की जानकारी मिली ऐसे में कहीं परिजन और कहीं पेशेंट कहीं बाहर से आए थे अगले दूसरे शहर से आए थे ऐसे में उन्हें वापस दूसरी तारीख कब की मिलेगी क्योंकि सभी डेट्स बुक है ऐसे में उन्हें भी लगातार कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here