एयरबैग्स वाली कारों में कभी भूल कर भी ना करें ये गलतियां

0
88

जयपुर। अब भारत में भी लोग सेफ्टी फीचर्स से लैस कारें खरीदना पसंद करने लगे है। देश में हम कंपनियां सेफ्टी फीचर्स के तौर पर कारों में कई सारे फीचर्स देते है इन्हीं सेफ्टी फीचर्स में से एक है एयरबैग। कार में सफर कर रहे पैसेजर्स को ऐक्सिडेंट के दौरान ये एयरबैग्स सुरक्षा प्रदान करने का काम करते है। हालांकि, जिन कारों में एयरबैग होते है उनमें कुछ विशेश बातों का ध्यान रखने की जरूरत होती है।

अगर आपके पास एयरबैग्स वाली कार है तो आपको सफर के दौरान हमेशा सीट बेस्ट को पहनना चाहिए, हालांकी बिना एयरबैग्स वाली कारों में भी सुरक्षा को ध्यान रखते हुए सीट बेल्ट लगाना अनिवार्य हो जाता है। वहीं एयरबैग्स वाली कारों में सीट बेल्ट लगाना इसलिए जरूरी हो जाता है क्योंकि बिना सीट बेल्ट के यह फीचर एक्सीडेंट के दौरान काम नही करता।

आपको बता होना चाहिए कि ड्राइवर की साइड का एयरबैग हमेशा स्टीरिंग वील में इंस्टॉल किया  गया होता है। इस ड्राइवर को कोशिश करनी चाहिए की स्टीयरिंग के ज्यादा करीब ना बैठे, क्योंकि एयरबैग खुलने पर ड्राइवर का चेहरा घायल हो सकता है। साथ ही स्टीयरिंग वील के ज्यादा पास बैठने से एयरबैग ठीक से खुल नहीं पाता, जिससे ड्राइवर को पूरी सुरक्षा नहीं मिल पाती।

इसके अलावा जिस कार में को-ड्राइवर एयरबैग दिया गया है उसके डैशबोर्ड पर सजावटी सामान नही रखना चाहिए। क्योंकि एयरबैग खुलने के लिए डैशबोर्ड से टकराता है। अगर डैशबोर्ड पर कोई सजावटी सामान रखा होगा, तो चोट पहुंच सकती है। कुछ कारों के साथ साइड एयरबैग्स भी दिए जाते है। ऐसी गाड़ियों में ज्यादा सावधानी की जरूरत होती है क्योंकि ये एयरबैग्स सीट के अंदर लगे होते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here