Diwali vastu tips: इस दिवाली पेंट करवाने से पहले जानिए वास्तु नियम, दूर होंगी सभी परेशानियां

0

हिंदू धर्म में वैसे तो सभी त्योहारों को विशेष माना गया हैं मगर दिवाली का त्योहार बहुत ही महत्वपूर्ण होता हैं इसे महापर्व भी कहा जाता हैं क्योंकि यह पर्व पूरे पांच दिनों तक चलता हैं। दिवाली पर देवी मां लक्ष्मी के स्वागत के लिए कई दिन पहले से ही तैयारियां शुरू हो जाती हैं घरों और कारोबार संस्थानों की साफ सफाई, रंग रोगन किया जाता हैं अगर वास्तु नियमों के मुताबिक दिशाओं और रंगों का ध्यान रखाकर कार्यस्थल और घर पेंट करवाया जाए तो निश्चित रूप से शुभ परिणाम मनुष्य को प्राप्त होते हैं तो आज हम आपको वास्तु अनुसार कुछ जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं जो आपके बहुत काम आ सकती हैं तो आइए जानते हैं।

आपको बता दें कि सत्व, रजस व तमस इन तीन तरह के गुणों से रंगों का गहरा संबंध माना गया हैं रंगों के मुताबिक मनुष्य के शारीरिक व मानसिक रूप से प्रभावित होता हैं। तामसिक रंग गहरे होते हैं इनमें गहरे नीले, भूरे और काले रंग को मुख्यता दी जाती हैं घर की सजावट में तामसिक रंगों की अवहेलना करनी चाहिए। ये रंग मनुष्य को सुस्त व आलसी बनाते हैं। वही घर में सौहार्द वातावरण के लिए नम्र, हल्के व सात्विक रंगों का इस्तेमाल करना अच्छा होता हैं आसमानी, हरे, सफेद और अन्य हल्के रंगों को सात्विक रंग कहा जाता हैं दिशाओं के मुताबिक घर में इनका प्रयोग करना अच्छा होता हैं तीखे लाल, नारंग और गुलाबी रंग रजस कहलाते हैं जो इच्छाओं में वृद्धि करते हैं। वही हल्के नीले और हरे रंग को वास्तु में स्वास्थ्य के प्राकृतिक स्त्रोत के रूप में देखा जाता हैं ये रंग ठंडे और कोमल होते हैं व इनमें संयमित और शांतिमय विकंपन पैदा होता हैं उत्तर दिशा की ओर वाले कमरों के लिए नीला और पूर्व दिशा की ओर हरा रंग करवाना वास्तु अनुसार शुभ माना गया हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here