क्या राजनीति के लिए प्रियंका गांधी अभी भी राहुल गांधी से बेहतर दिखती हैं?

0
56

जयपुर। 2004 से सक्रिय राजनीति में आए राहुल गांधी अपनी राजनीति में 10 साल से ज्यादा का समय देख चुके हैं और देखते-देखते उनकी छवि में भी काफी बदलाव आया है वही उस पृष्ठभूमि से लंबे समय से कांग्रेस के अंदर की मांग उठती रही है कि उनकी छोटी बहन प्रियंका गांधी को राजनीति में सक्रिय होना चाहिए बताया जाता है कि प्रियंका गांधी बोलने के मामले में राहुल से बेहतर है और वह इंदिरा गांधी की याद भी लोगों को दिलाती रहती है इसलिए वे राजनीति में अपने भाई से अधिक सफल साबित हो सकती है.

इसके बावजूद अबुजर प्रियंका गांधी राजनीति में सक्रिय नहीं हुई थी इसकी वजह से उनकी मां सोनिया गांधी पर दबी जुबान से ही पर तरह-तरह के आरोप लगते रहे थे और खा जा रहे थे कि वह अपने बेटे राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने भेदभाव करती है लेकिन अब ऐसा कुछ नहीं है आपको बता दें कि प्रियंका गांधी को मैदान में उतार दिया गया है इस लोकसभा चुनावों के लिए प्रियंका गांधी को कांग्रेस पार्टी का महासचिव बनाकर उत्तर प्रदेश की कमान सौंपी गई है.

आपको बता दें कि प्रियंका गांधी वाड्रा के राजनीति में आने से पहले उनकी मां के साथ साथ उनके पति पर भी आरोप लगते रहे थे कि रॉबर्ट वाड्रा उन्हें राजनीति में नहीं आने देना चाहते हैं लेकिन लोकसभा के चुनाव से ठीक पहले प्रियंका गांधी को कांग्रेस पार्टी का महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश का प्रभारी बना दिया गया था.

वहीं आ बता दे कि राजनीति में उनके आगमन की खबरों को लेकर पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ-साथ मीडिया तारीख को बड़ा तबका भी खासा उत्साहित देखने को मिला करता प्रियंका गांधी जा दी गई उन्हें देखने सुनने के लिए बड़ी संख्या में लोग सामने और इसकी शुरुआत इस उत्साह को देखकर फिर से कई राजनीतिक जानकारों ने यह बात कहनी शुरू कर दी कि धीरे-धीरे प्रियंका गांधी अपने भाई राहुल गांधी को छोड़कर कांग्रेस की राजनीति में सबसे अहम भूमिका पर आ जाएगी.

हालांकि आपको बता दें कि प्रियंका गांधी ने भी इस बार का लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ा है आगे की रणनीति और पार्टी उन्हें किस तरीके से काम में लेती है यह देखने वाली बात होगी और यह समय बताएगा कि क्या प्रियंका गांधी राहुल गांधी को छोड़ कर आगे बढ़ पाती है या वह अपने भाई के साथ रहकर ही काम करती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here