धनतेरस पर मां लक्ष्मी को चढ़ाएं ये चीज, कभी नहीं होगी धन की कमी

0
97

कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को धन की देवी के उत्सव का प्रारंभ होने के कारण इस दिन को धनतेरस के नाम से जाना जाता हैं। धनतेरस को धन त्रयोदशी व धन्वन्तरी त्रयोदशी के नाम से भी जाना जाता हैंं ऐसी मान्यता हैं,कि समुद्र मंथन के वक्त कलश के साथ माता लक्ष्मी का अवतरण हुआ उसी के प्रतीक के रूप में ऐश्वर्य वृद्धि, सौभग्य वृद्धि के लिए बर्तन खरीदने की परम्परा शुरू हुई।

त्रयोदशी तिथि का मान 04 नवम्बर 2018 दिन रविवार को रात में 12:51 बजे से 5 नवम्बर 2018 दिन सोमवार की रात 11:17 बजे तक हैं। अर्थात त्रयोदशी तिथि अर्थात धन त्रयोदशी तिथि 05 नवम्बर 2018 दिन सोमवार को सूर्योदय से रात 11:17 तक रहेगा। अत: गृहोपयोगी सामान त्रयोदशी तिथि के स्थिर लग्न में खरीदना श्रेयस्कर होता हैं। इस दिन सम्पूर्ण दिन उत्तरा हस्त नक्षत्र, विष्कुम्भ योग एवं वज्र योगा व्याप्त रहेगी।

वही ज्यादातर लोगों को धनतेरस परसोना चांदी खरीदने के बारेमें तो पता होता हैं। मगर यह नहीं मालूम होता हैं,कि इस दिन धनिया के बीज खरीदने की परंपरा हैं। इस दिन धनिया खरीदना बहुत ही शुभ माना जाता हैं। इसे समृद्धि का प्रतीक माना जाता हैं।

साबुत धनिया देगी धन की वर्षा—
पांच रुपये का साबुत धनिया खरीद कर धनतेरस को लाएं और उसी दिन मां लक्ष्मी और भगवान धनवंतरी के चरणों में रखें। साथ ही साथ भगवान से अपनी मेहनत के बल पर मिलने वाले धनकी मांग करें और आपको ये जरूर मिलेगा। वही बाद में इस धनिया को प्रसाद के रूप में ​सभी में बाटें। ऐसा करने से आपको अधिक लाभ होगा। मां लक्ष्मी की कृपा आप पर सदैव बनी रहेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here