उप्र उपचुनाव : फूलपुर व गोरखपुर में सपा को बसपा का समर्थन, जानिए इसके बारे में !

0
171

उत्तर प्रदेश में लोकसभा की दो सीटों- फूलपुर और गोरखपुर में 11 मार्च को होने वाले उपचुनाव में भाजपा को हराने के लिए बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) ने रविवार को अपनी प्रतिद्वंद्वी समाजवादी पार्टी (सपा) के उम्मीदवारों को समर्थन देने की घोषणा कर दी। मायावती की पार्टी अखिलेश की सपा के साथ हालांकि मंच साझा नहीं करेगी। गोरखपुर और इलाहाबाद में बसपा नेताओं की हुई बैठक में पार्टी कोऑर्डिनेटरों ने सपा प्रत्याशियों को इसी शर्त के साथ समर्थन देने का ऐलान किया।

इलाहाबाद में जोनल कोऑर्डिनेटर अशोक कुमार गौतम की अध्यक्षता में बसपा जिला कार्यालय में पार्टी नेताओं की बैठक हुई। बैठक में फूलपुर लोकसभा उपचुनाव को लेकर पार्टी नेताओं ने मंथन कर सपा उम्मीदवार को समर्थन देने का विचार किया। इसके बाद बसपा कोऑर्डिनेटर अशोक कुमार गौतम ने सपा प्रत्याशी नागेंद्र सिंह पटेल को समर्थन देने की घोषणा कर दी।

उन्होंने कहा कि भाजपा को हराने के लिए जीत रहे प्रत्याशी को बसपा का समर्थन रहेगा। इसी के तहत इलाहाबाद में सपा प्रत्याशी नागेंद्र सिंह पटेल का भी समर्थन किया जा रहा है।

अशोक ने कहा, “हमारे कार्यकर्ता सपा के प्रत्याशी के पक्ष में माहौल भले ही बनाएंगे, लेकिन हम सपा प्रत्याशी के साथ मंच साझा नहीं करेंगे।” उन्होंने कहा कि बसपा का लक्ष्य भाजपा का सफाया करना है।

उधर, गोरखपुर में मंगलम लॉन में आयोजित बसपा कार्यकर्ता सम्मेलन में बसपा के मुख्य जोन कोऑर्डिनेटर घनश्याम चंद्र खरवार ने सपा प्रत्याशी प्रवीण कुमार निषाद को समर्थन देने का ऐलान किया। उन्होंने कहा, “भ्रष्टाचार मिटाने का झांसा देकर देश को खोखला करने वालों को हम मिलकर सबक सिखाएंगे।”

उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से प्रवीण कुमार निषाद को जीत दिलाने के लिए जी जान से जुट जाने की अपील की। खरवार ने कहा कि बसपा मुखिया मायावती ने समाजवादी पार्टी को समर्थन देने का निर्णय लिया है। उनकी शर्त अति पिछड़े वर्ग के प्रत्याशी को मैदान में उतारने की थी।

उन्होंने कहा कि स्थानीय स्तर से यहां की स्थितियों पर रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष तक पहुंचाई गई थी। पिछड़े व दलितों के हित में मायावती ने प्रवीण को समर्थन का आदेश दिया है।

खरवार ने कहा कि सभी बसपा पदाधिकारी और कार्यकर्ता तन, मन, धन से प्रवीण निषाद को जिताने में जुट जाएं। बैठक में सपा के उदय वीर सिंह और निषाद पार्टी के अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद भी शामिल हुए।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here