दिल्ली का होगा अपना शिक्षा बोर्ड, CBSE से इस तरह होगा अलग : मनीष सिसोदिया

0
123

जयपुर। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि अब जल्द ही दिल्ली सरकार अपना खुद का एक शिक्षा बोर्ड बनाएगी. आपको बता दें कि अब तक वह सीबीएसई पैटर्न को फॉलो कर रही थी और अब उन्होंने कहा है कि वह खुद का अलग बोर्ड बनाएंगे लेकिन वह सीबीएसई का स्थान नहीं लेगा बल्कि यह अगली पीढ़ी का बोर्ड होगा जो जेई और नीट जैसी परीक्षाओं की तैयारियों के लिए भी छात्रों की मदद करेगा.

आपको बता दें कि मनीष सिसोदिया ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा है कि दिल्ली सरकार बोर्ड को ऐसे रूप में देखती है जिससे वर्तमान हालत का निदान हो सके उन्होंने कहा कि वर्तमान में छात्र स्कूल की मदद से बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी करते हैं लेकिन उन्हें इंजीनियरिंग और मेडिकल की प्रवेश परीक्षा पास करने के लिए कोचिंग सेंटरों का सहारा लेना पड़ रहा है.

आपको बता दें कि मीडिया में इस जानकारी के अनुसार सिसोदिया ने कहा कि यह आज की समय की विडंबना है कि लेकिन मैं इसे वरदान के रूप में देखता हूं कि दिल्ली में कोई शिक्षा बोर्ड नहीं है हम दिल्ली को अपना शिक्षा बोर्ड देने की तैयारियां कर रहे हैं उन्होंने बताया कि हमने 2015 में इसके बारे में सोचना शुरू कर दिया था और अब उस पर काम करना भी शुरू कर दिया गया है लेकिन जब हमने इमारतों की हालत देखी और कक्षाओं के शिक्षण मेहुल को महसूस किया तो हमें लगा कि एक नया बोर्ड बनाने की वजह पहले ढांचागत सुधार करने की जरूरत है, इसके अलावा उन्होंने कहा कि दिल्ली का अपना शिक्षा बोर्ड बनाने का वक्त अब आ चुका है.

आपको बता दें कि बोर्ड का मतलब होता है कि जिस तरीके से प्रवेश परीक्षाएं ली जाएगी किस तरीके से परीक्षाएं होगी किस तरीके से कोर्स निर्धारित होगा यह सभी कुछ बोर्ड के द्वारा तय किया जाता है और किस तरीके से सवाल पूछे जाएंगे और किस आपको बता दें कि बोर्ड का मतलब होता है कि जिस तरीके से प्रवेश परीक्षाएं ली जाएगी किस तरीके से परीक्षाएं होगी किस तरीके से कोर्स निर्धारित होगा यह सभी कुछ बोर्ड के द्वारा तय किया जाता है और किस तरीके से सवाल पूछे जाएंगे और किस तरीके से पढ़ाने का तरीका होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here