इस ऐलान के बाद कम हो सकता दिल्ली का प्रदूषण

0
656

जयपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पंजाब के मलोट में बुधवार को एक किसान कल्याण रैली को संबोधित करा। इस रैली का उद्देश्य 2019 में होने आम चुनाव से पहले मोदी सरकार द्वारा बढाई गई एमएसपी को किसानों तक लेकर जाना ताकि इसका फायदा अगले साल होने वाले आम चुनाव में हो सके।

इस रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने केंद्र सरकार द्वरा किसानों के लिए किए गए कामों को गिनाया और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा की आज किसान आराम से सो रहा है, इसलिए कांग्रेस की नींद उड़ी हुई है।

इसके अलावा मोदी ने एक ऐलान किया है, जिसका सीधा असर दिल्ली वासियों पर पढता है। दरअसल दिल्ली प्रदूषण से काफी परेशान रहता है और इस प्रदूषण का एक बड़ा हिस्सा हरियाणा और पंजाब के राज्यों में फसल कटने के बाद जो अवशेष बच जाते है किसान उसको जला देते है और उसका धुआ पडोसी राज्य होने के कारण दिल्ली में आता है जिससे दिल्ली इतनी प्रदूषित होती है। उस वक्त आम जन के लिए सांस लेना भी मुश्किल हो जाता है। अब इस समस्या को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने एक ऐलान किया है। जिसके तहत अब सरकार ने फसल के अवशेष को जलाने की जगह उसे मशीन से कटाने के लिए 50 करोड़ देने का ऐलान किया है। जिसके तहत पंजाब ,हरियाणा और दिल्ली के किसानों को सरकार मशीन की लगत का 50 प्रतिशत पैसा देंगे और 50 प्रतिशत पैसा किसानों को खुद वहन करना होंगा।

Thick smog in new Delhi on Tuesday express Photo by Prem Nath Pandey 07 Nov 17

अगर किसान फसल अवशेष को जलाने की जगह मशीन से काटते है तो वो उसकी जैविक खाद बना सकते है और प्रदूषण को भी कम कर सकते है। लेकिन सवाल ये है की क्या किसान इस 50 प्रतिशत खर्च को वहन कर पाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here