केंद्र की रियायतों के बावजूद दिल्ली-नोएडा बॉर्डर सील! लोगों की बढ़ी पेरशानी

0

आज से लॉकडाउन में रियायतों का दायरे को और बढ़ा दिया गया है। कोरोना संकट के बीच अर्थव्यवस्था को गहरी चोट लगी है। सरकार अब इकोनॉमी को पटरी पर लाने के लिए अनलॉक वन एडवाइजडरी लागू की है। लेकिन उत्तर प्रदेश के डीएम के निर्देश ने दिल्ली और नोएडा में नौकरी करने वालों के लिए परेशानी खड़ी कर दी है।

दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर आज सुबह से ही वाहनों की कतारें लगी रहीं। नोएडा के जिलाधिकारी सुहास एल.वाई ने अनलॉक-1 को लेकर ट्विट कर जिला प्रशासन के फैसले की जानकारी साझा की है। डीएम ने कहा है कि दिल्ली और नोएडा की सीमा पहले की तरह सील रहेगी।

दिल्ली-नोएड बॉर्डर बंद रखने के आए फैसले पर तर्क दिया गया है कि बीते 20 दिन में कोरोना के जितने भी मामले नोएडा में आए हैं। उनमें से 42 फीसदी का स्रोत दिल्ली पाया गया है। नोएडा प्रशासन के इस फैसले को लेकर लोग ट्वीटर पर सवाल खड़े कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि आपके आदेश के अनुसार, पहले से बोर्डर सील था तो बीते 20 दिन मे नोएडा में दिल्ली से 42 प्रतिशत कोरोना के मामले कैसे आ सकते हैं।

डीएम के आदेश से नोएडा और दिल्ली में नौकरी करने वाले लोगों की परेशानी बढ़ सकती है। बता दें कि लाखों की संख्या में लोग नोएडा से दिल्ली और दिल्ली से नोएडा नौकरी करने जाते हैं। ऐसे में दिल्ली-नोएडा बॉर्डर सील रहने से कई लोगों की नौकरी पर खतरा मंडराने लगा है।

Read More…
लॉकडाउन के बाद आज से नई शुरुआत! जानें अनलॉक-1 में क्या-क्या खुलेगा…..
आज से चलेंगी 200 स्पेशल ट्रेनें! पहले दिन 1 लाख 45 हजार यात्री करेंगे सफर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here