दिल्ली अग्निकांड: 43 लोगों की मौत का जिम्मेदार कौन ?

0

दिल्ली। अनाज मंडी अग्निकांड में 43 लोगों की मौत ने लोगों को झकझोर दिया था। 43 लोगों की जान आग की लपटों की बीच समा गई। इस घटना के पीछे सबसे बड़ी वजह लापरवाही सामने आई है। इसमें किसी एक की लापरवाही नहीं बल्कि फैक्ट्री मालिक की लापरवाही, सरकार की लापरवाही और श्रम विभाग की लापरवाही रही है। उपहार के बाद दिल्ली में यह सबसे बड़ा अग्निकांड माना जा रहा है।

धधकते अग्निकांड को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं लेकिन इसके पीछे जिम्मेदार कौन है। दिल्ली श्रम विभाग के अधिकारी, जिनके पास इंडस्ट्रियल सेफ्टी का जिम्मा है। इस कारखाने में फैक्ट्री एक्ट का उल्लंघन हुआ। जानकारी में सामने आया है कि 600 वर्गफीट में 125 मजदूरों के आसपास काम कर रहे थे।घटना दिल्ली में रविवार को सामने आई। दरअसल, दिल्ली की एक इमारत में आग लगने से 43 लोगों की मौत होने से इलाके में दहशत दौड़ गई जिसने भी सुना सब हैरान रह गए। लेकिन 43 लोगों की मौत का जिम्मेदार कौन है।

इंडस्ट्रियल सेफ्टी विशेषज्ञों का कहना है कि इस इमारत में यदि फैक्ट्री एक्ट का पालन हो रहा होता तो 43 लोगों की जान को खतरा नहीं होता। संकरी गलियों और छोटे से इलाके में बड़ी संख्यां में लोगों का काम करना बड़ा सवाल बना हुआ है। ऐसा सामने आया है कि काम करने के बाद सभी मजदूर यहीं पर सो जाते थे। नियमों के अनुसार, कोई भी फैक्ट्री मालिक कार्यस्थल पर मजदूरों को नहीं सुला सकता। इमारत से बाहर निकलने के लिए एक ही रास्ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here