दिल्ली चुनाव : रविवार को एक करोड़ 14 लाख जब्त, आप के खिलाफ 10 मामले दर्ज

0

दिल्ली विधानसभा चुनाव की तारीख घोषित होते ही राज्य चुनाव मुख्यालय ने जबरदस्त तरीके से मोर्चा संभाला हुआ है। इसका ताजा-तरीन नमूना देखने को तब मिला, जब साप्ताहिक अवकाश का दिन होने के बाद भी रविवार को धर-पकड़ अभियान के दौरान करीब 14 लाख की नकदी जब्त कर ली गई। इतना ही नहीं, आम आदमी पार्टी (आप) के खिलाफ भी चुनाव आयोग की टीमों ने 10 मामले दर्ज कराए हैं।

आईएएनएस को यह जानकारी सोमवार को दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी डॉ. रणबीर सिंह के कार्यालय से जारी अधिकृत बयान में दी गई है। बयान में आगे बताया गया कि 19 जनवरी यानी रविवार को एक ही दिन में अलग अलग इलाकों में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के 184 मामले दर्ज किए गए।

इनमें से दस मामले (8 एफआईआर और 2 डेयली डायरी इंट्री) सिर्फ आम आदमी पार्टी के ही खिलाफ हैं, जबकि कांग्रेस पार्टी के खिलाफ 5, भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ 2 तथा 167 मामले गैर-राजनीतिक दलों के खिलाफ दर्ज हुए हैं।

राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी कार्यालय के नोडल अधिकारी (मीडिया) नलिन चौहान के मुताबिक, “रविवार को राजधानी में शस्त्र अधिनियम के तहत 183 एफआईआर दर्ज की गईं। इन दर्ज मामलों में 202 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जबकि अलग-अलग जगहों से डेढ़ कुंतल के करीब नशीला पदार्थ भी जब्त किया गया।”

इसी तरह वाहनों के दुरुपयोग, लाउडस्पीकर के गैर-कानूनी इस्तेमाल, अवैध मीटिंग्स तथा मतदाताओं को लालच देने आदि संबंधी 9 मामले अलग-अलग जगहों पर दर्ज किए गए। आबकारी अधिनियम के तहत दर्ज किए गए 488 मामलों में 497 लोगों को गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा गैर-लाइसेंसी हथियार, विस्फोटक, कारतूस बरामदगी संबंधी 212 मामले सामने आए। साथ ही 4034 लाइसेंसी हथियार भी जमा कराए गए।

चुनाव आयोग की तेज नजरों के चलते ही अलग-अलग स्थानों पर मुस्तैद टीमों ने एक करोड़ 13 लाख 53 हजार 920 रुपये की अवैध नकदी भी जब्त की, जो चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद से अब तक एक ही दिन में जब्त नकदी में सबसे ज्यादा मानी जा रही है।

चुनाव आयोग की तेज चाल से स्थानीय नगरीय निकायों की चाल भी बदली हुई है। इसी का नतीजा है कि एक ही दिन में उनके द्वारा 5 लाख 22 हजार 258 होर्डिग्स/बैनर/पोस्टर भी हटा दिए गए।

इसी तरह, मीडिया प्रमाणन और निगरानी समिति (एमसीएमसी) प्रकोष्ठ को अभी तक चुनावी विज्ञापन से संबंधित कुल 53 आवेदन मिले थे। इनमें से 41 आवेदनों को प्रमाणपत्र जारी कर दिया गया। 9 आवेदन लंबित हैं और 3 को खारिज कर दिया गया।

न्यू स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleप्रियंका गांधी 22 जनवरी को उत्तर प्रदेश दौरे पर
Next articleराहुल ने अमीरों-गरीबों के बीच बढ़ती खाई पर मोदी को घेरा
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here