वैराइटी इंटरनेशनल वीमेन इम्पैक्ट रिपोर्ट 2021 में Deepika एकमात्र भारतीय

0

दीपिका पादुकोण के लिए उत्साह और शानदार खुशी है, क्योंकि सिनेमा में उनके योगदान के लिए और 2021 की विविधता अंतर्राष्ट्रीय महिला प्रभाव रिपोर्ट में परोपकारी प्रयासों में भाग लेने के लिए अभिनेत्री की सराहना की गयी है। केवल दो भारतीय महिलाओं में से एक यह अभिनेत्री है, जिन्होंने इस सूची की शोभा बढ़ाई है। इन सालों में, दीपिका ने अपनी आवाज सुनी है, जिसने एक वैश्विक प्रभाव पैदा किया है, चाहे वह उनकी फिल्मों के साथ हो या उनकी नींव ‘लाइव लाफ लव’ के साथ हो, जिसके माध्यम से उन्होंने 2015 में मानसिक स्वास्थ्य के लिये संवाद शुरू किया। ‘पद्मावत’ और ‘छपाक’ जैसी फिल्मों में उनके काम के लिए स्वीकार किया गया, जो सामाजिक सोच में बदलाव लाता हैं।

अभिनेत्री का परिचय देते हुए, वैराइटी ने लिखा, “बॉलीवुड स्टार पादुकोण ने एक एसिड हमले के सर्वायवर के बारे में एक सामाजिक नाट्य ‘छपाक’ का निर्माण और अभिनय किया, जो पिछले साल की शुरूआत में प्रदर्शित हुआ था। यह बदलाव के दौर 2018 की ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘पद्मावत’ से शुरू हुआ था, जिसमें वह रानी पद्मावती की भूमिका में हैं।

अपनी यात्रा के बारे में प्रकाशन से बात करते हुए, उन्होने कहा, “सौभाग्य से, मुझे कभी किसी फिल्म के बजट के आधार पर या विभिन्न अन्य कारणों से निर्णय नहीं लेना पड़ा। यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि मैं अपने जीवन में भावनात्मक रूप से कहां हूं। मेरी बहुत सारी पसंद उसी से तय होती हैं।”

इंडस्ट्री के सबसे पसंदीदा और सम्मानित अभिनेताओं में से एक होने के नाते, दीपिका ने हमेशा किसी न किसी तरह से देश को गौरवान्वित किया है। चाहे वह साटरेरिअल, परोपकारी या फिल्म हो, अभिनेत्री के कदम को सबसे अधिक पसंदीदा माना जाता है। अपने पदार्पण के बाद पिछले 14 वर्षों में, दीपिका वैश्विक रूप से सबसे अधिक चहीता चहरा बनकर उभरी हैं।

ऐसी वैश्विक सूची की विशेषता से, डफ और फेल्प्स की रिपोर्ट के अनुसार सबसे मूल्यवान अभिनेत्री बनने के लिए, दीपिका ने अपने काम को हमेशा एक ऊंचाई पर रखा है।

रिपोर्ट ने दुनिया भर की 50 महिलाओं को उनके संबंधित क्षेत्रों में उनके प्रभाव के लिए सम्मानित किया। यह मान्यता इस समय के अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस को चिह्न्ति करती है जो 08 मार्च को है।

न्यूज सत्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleTaapsee Pannu: टैक्स चोरी मामले में आयकर की छापेमारी पर पहली बार सामने आई तापसी की प्रतिक्रया
Next articleटीशर्ट करेगा महिलाओं से छेड़खानी होने पर अलर्ट (Women’s Day Special)
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here