रोजाना एक सिगरेट पीने से बढ़ जाता है दोगुना खतरा

0
156

जयपुर। धूम्रपान करना शरीर के लिए हानिकारक है अब चाहे फिर आप धूम्रपान किसी भी तरह से करें वो आपकले लिए नुकसानदायक होगा। हाल ही में हुए एक नए अधय्यन से पता चला है कि “लाइट” या फ़िल्टर किए गए सिगरेट, जिन्हें धूम्रपान करने वाले औरों से एक स्वस्थ विकल्प मानते हैं, वो भी वास्तव में पारंपरिक, अनफ़िल्टर (बीड़ी) पीने वाले लोगों की तुलना में अधिक घातक हैं।


राष्ट्रीय कैंसर संस्थान के जर्नल में प्रकाशित एक रिपोर्ट में लाइट सिगरेट की हर रोज बढ़ती मांग और फेफड़ों के एडेनोकार्किनोमा की दर में एक महत्वपूर्ण वृद्धि के बीच एक कड़ी दिखाई गयी है। एक प्रकार के ट्यूमर के बारे में बताया गया है जो फेफड़ों के गहरे हिस्सों पर हमला करता है।

1960 के मध्य में के बाद से, तंबाकू कंपनियों द्वारा फ़िल्टर वेंटिलेशन को अपनाया गया था क्योंकि शुरुआत में इसे सिगरेट सुरक्षित बनाने के लिए किया गया था। होल्स सिगरेट से धूम्रपान करने वालों को टार का सेवन कम होता है, हालांकि, शोधकर्ताओं ने पिछले 50 वर्षों में फेफड़े के एडेनोकार्किनोमा की दरों में वृद्धि देखी है।

छिद्रित सिगरेट से धूम्रपान करने वाले अधिक कश ले सकते हैं। क्योंकि उपयोगकर्ता अधिक धुआं लेते हैं, अधिक मात्रा में जहरीले रासायन फेफड़ों में प्रवेश करते हैं, और उन इलाकों तक पहुंच जाते हैं जहां एडेनोकार्किनोमा के विकास की संभावना अधिक होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here