कोर्ट ने साम्प्रदायिक नफरत फैलाने के आरोप में कंगना पर केस दर्ज करने के दिए आदेश,जानिए पूरा मामला

0

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रणौत की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। कर्नाटक में एफआईआर दर्ज होने के बाद अब मुंबई की बांद्रा कोर्ट ने बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रणौत और उनकी बहन रंगोली के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के आदेश दिए हैं।
कंगना रनौत पर सांप्रदायिक नफरत फैलाने के आरोप है जिसके चलते उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए कहा है।

दरअसल मुन्ना वराली और साहिल अशरफ सैयद ने अदालत में याचिका दायर कर भड़काऊ ट्वीट के लिए कंगना रणौत के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी। याचिका में यह आरोप लगाया गया था कि कंगना अपने ट्वीट और टीवी चैनलों पर दिए इंटरव्यू के जरिए हिंदू और मुस्लिम कलाकारों के बीच खाई पैदा कर रही हैं। इस याचिका में कहा गया था कि कंगना अपने ट्वीट के जरिए दो समुदायों के बीच नफरत को बढ़ावा दे रही हैं। कंगना पर सांप्रदायिकता को बढ़ावा देने का आरोप भी लगाया गया था।

याचिकाकर्ताओं के अनुसार, बांद्रा पुलिस स्टेशन ने इस मामले में कोई एक्शन लेने से मना कर दिया था, इसकी वजह से उन्होंने अदालत की शरण ली। कोर्ट ने कंगना रणौत के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने को कहा है।
एफआईआर के बाद कंगना से पूछताछ होगी और अगर कंगना के खिलाफ पुख्ता सबूत मिलते हैं कि उनकी गिरफ्तारी भी हो सकती है।

बता दें की अपने ट्वीट के चलते कंगना अक्सर विवादों में रहती हैं।इससे पहले केंद्र सरकार द्वारा पारित कृषि कानूनों का विरोध करने वाले लोगों पर की गई टिप्पणी को लेकर कंगना रनौत के खिलाफ कर्नाटक पुलिस ने 13 अक्टूबर को एफआईआर दर्ज की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here