देश का आईटी पर खर्च 2021 में 6 फीसदी बढ़ने का अनुमान : गार्टनर

0

देश में सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) का खर्च 2021 में सालाना छह प्रतिशत बढ़कर 81.9 अरब डॉलर तक पहुंच सकता है। शोध कंपनी गार्टनर की हालिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। सोमवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक, 2020 में देश का आईटी पर व्यय 79.3 अरब डॉलर रहने का अनुमान व्यक्त किया गया है। यह 2019 के स्तर से 8.4 प्रतिशत नीचे है।

गार्टनर रिसर्च मामलों के उपाध्यक्ष अरूप रॉय ने एक बयान में कहा, “कोविड-19 महामारी की यह हालत कई संगठनों को नींद से जगाने वाली है, ताकि वह अपने आईटी ढांचे और रणनीति को सुदृढ़ करें और 2021 में आईटी पर अपना व्यय बढ़ाएं।”

वर्ष 2020 में उपकरण और डेटा सेंटर श्रेणी में सबसे अधिक गिरावट रही। इनके क्रमश: 26 प्रतिशत और 1.2 प्रतिशत गिरने का अनुमान है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2021 में कंपनियों और कारोबारों के प्रमुख कार्यकारियों द्वारा आईटी पर अधिक खर्च करने का अनुमान है।

गार्टनर ने कहा कि जहां सभी खंडों में खर्च में वृद्धि दर्ज की जाएगी, वहीं उद्यम सॉफ्टवेयर खंड में 13.6 प्रतिशत और डेटा सेंटर सिस्टम में 8.3 प्रतिशत की उच्चतम वृद्धि हासिल होगी।

यह भी अनुमान लगाया गया है कि सभी क्षेत्रों के लिए 2021 में ‘डिजिटल इंडिया’ मिशन एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा। इससे भी आईटी पर व्यय बढ़ने का अनुमान है।

रॉय ने कहा कि जो कंपनियां महामारी से पहले डिजिटल तौर पर तैयार थी, वे इसके असर को सीमित करने में सफल रहीं।

उन्होंने कहा, “इन डिजिटल नवाचारों की सफलता ने आईटी में निवेश पर ध्यान केंद्रित किया है।”

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleDevauthani ekadashi vrat: चार महीने बाद कल जागेंगे जगत के पालनहार, सबसे पहले सुनेंगे इनकी प्रार्थना
Next articleISL में पदार्पण करने को लेकर उत्साहित हैं अभिजीत सरकार
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here