Corona vaccine effect:इन लोगों पर कोरोना वैक्सीन नहीं होगी कारगार, आईसीएमआर का दावा

0

जयपुर।आज पूरा विश्व कोरोना महामारी के संक्रमण से जूझ रहा है।विश्व में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 3 करोड़ के पार पहुंच चुका है और 9 लाख 80 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।ऐसे में कोरोना वैक्सीन बनाने वाली कुछ कंपनियों का दावा है कि इस साल के अंत तक बाजार में कोरोना की वैक्सीन आ जाएगी, जिसमें ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन और मॉडर्ना की वैक्सीन शामिल है।

लेकिन इस बीच आईसीएमआर यानि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद ने इस बात का दावा किया है कि कुछ लोगों पर कोरोना वैक्सीन कारगार साबित नहीं हो सकती है, जिससे चिंता और बढ़ती दिखाई दे रही है।आईसीएमआर यानि इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने कोरोना वैक्सीन को लेकर इस बात की जानकारी दी है कि कोरोना से संक्रमित जो लोग सांस संबंधी समस्याओं से जूझ रहें है, उन पर कोई भी वैक्सीन कारगर साबित नहीं हो सकती है।

लेकिन उन्होंने इस को भी बताया है कि ऐसे मरीजों के लिए वैक्सीन को कारगर बनाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है।वहीं दूसरी तरफ भारत बायोटेक और आईसीएमआर के सहयोग से बनाई गई देशी कोरोना वैक्सीन ‘कोवैक्सीन’ का इस समय दूसरे चरण का ट्रायल चल रहा है।

भारत में कोवैक्सीन के पहले चरण का ट्रायल सफल होने बाद इसके दूसरे चरण का ट्रायल किया जा रहा है।कोवैक्सीन के पहले चरण के दौरान कुछ वॉलटियर्स को वैक्सीन लगाने के बाद बुखार की समस्या देखी गई थी लेकिन कुछ ही घंटे में यह परेशानी ठीक हो गई थी।

जिसके बाद कोवैक्सीन का किसी भी तरह केा कोई साइड-इफेक्ट देखने को नहीं मिला है।जल्द ही इसके तीसरे चरण के ट्रायल की शुरूआत की जाने वाली है।

SHARE
Previous articleओडिशा के former Minister Matlub Ali का निधन
Next articleFIH Pro Hockey League में जर्मनी को दोहरी सफलता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here