Corona infection:कोरोना रिकवरी रेट में वृद्धि लेकिन वैक्सीन आने तक बचाव करना आवश्यक

0

जयपुर।आज पूरा विश्व पिछले 8—9 महीने से कोरोना महामारी से जूझ रहा है।विश्व में 3 करोड़ 75 लाख से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित पाएं गए है और 2 करोड़ से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।वहीं हमारे देश भारत में भी कोरोना संक्रमण के कारण 71 लाख से अधिक लोग संक्रमित पाएं गए है और एक लाख 10 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।ऐसे में वैज्ञानिक दिनरात कोरोना वैक्सीन बनाने में लगे हुए है और कई वैक्सीन का अब तक किए परीक्षण प्रभावी नतीजे सामने आए है।ऐसे में अब जल्द ही कोरोना वैक्सीन के आने की संभावना बनी हुई है।

कोरोना रिकवरी रेट में वृद्धि—
हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 36 हजार 469 नए मामले सामने आए हैं, वहीं 488 लोगों की मौत हो गई। देश में कोरोना वायरस की मृत्यु दर लगातार घट रही है और अब मृत्यु दर 1.5 फीसदी हो गई है, वहीं रिकवरी दर बढ़कर 90.62 फीसदी हो गई है।

कोरोना से बचाव आवश्यक—
चीन के वुहान शहर में पाएं गए खतरनाक कोरोना वायरस से पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले रखा है।इससे विश्व की अर्थव्यवस्था बिगड़ चुकी है जिससे पटरी पर लाने के लिए अब लॉकडाउन का हटाया जा रहा है।ऐसे में कोरोना संक्रमण का खतरा अधिक है, क्योंकि अभी कोरोना संक्रमण समाप्त नहीं हुआ है।ऐसे में जब तक कोरोना वैक्सीन नहीं आ जाती है तब तक इससे बचाव करना बेहद आवश्यक है।कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सरकार द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों का पालन करना आवश्यक है।बचाव के लिए अपने मुंह पर मास्क का इस्तेमाल और अपने हाथों को नियमित तौर पर साफ रखना जैसी आदतों का लाइफस्टाइल में शामिल करना आवश्यक है।इसके अलावा सोशल डिस्टेंशिंग की पालना और इम्यूनिटी को मजबूत रखकर आप कोरोना संक्रमण से बच सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here