कर दे शुगर को कंट्रोल, वरना हो सकते हैं इतने नुकसान

0
50

जयपुर। छोटे बच्चों से लेकर बड़ो तक को चीनी से बढ़ा लगाव होता है। सभी को मीठा खाना बहुत पसंद होता है। इसे खाखर किसी के चेहर पर मुस्कान आ जाती है। लेकिन हाल ही में किये एक शोध के ​मुताबिक ज्यादा चीनी के सेवन से आपकी मुस्कान गुस्से में बदल सकती है।

शोध इस बात का खुलासा हुआ है कि ज्यादा चीनी का सेवन और सामान्य मानसिक विकारों में आपस में संबंध होता है। कहा जाता है कि जितनी ज्यादा मात्रा में चीनी का सेवन करोगे उतना ही मानसिक तनाव में बढ़ोतरी होती है।

इसी को ध्यान में रखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने लोगों से सिफारिश की है कि लोगों को रोजना खाना वाली चीन में 5 फीसदी कमी करनी चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि चीनी के शौक को एकदम से कम नही किया जा सकता है। यहां फल,दूध,सब्जियों में पायी जाने वाली प्राकृतिक चीनी की बात नहीं की जा रही है।

जब ​ब्रिटेन और अमेरिका में इसका सर्वे किया गया तो, पाया कि ब्रिटेन के लोग दोगुनी मात्रा में और अमेरिका के ​लोग तीगुनी मात्रा में चीनी का सेवन करते हैं। चीनी की तीन चौथाई मात्रा तो अन्य पदार्थ जैसे, कोक,केक और शीतल पेय से मिलती है।

साल 2002 की एक रिपोर्ट के अनुसार ऐसे देशों का अध्ययन किया गया जहां चीनी की अधिक खपत पायी गई। इस रिपोर्ट में बताया गया कि वहां के लोगों में अवसाद का खतरा उच्च पाया गया। जब अवसाद के बारे में अध्ययन किया तो पाया कि जो लोग शुगर का अधिक सेवन कर रहे थे उनमें अन्य लोगों की तुलना में अवसाद 38 फीसदी ज्यादा पाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here