लगातार चल रही थी खांसी चेक करने पर जोंक निकली वजह

सर्दी हो या गर्मी खांसी हो जान बहुत ही आम सी बात है । कई बार तो बिना किसी कारण के भी कभी ठसका लग जाने या फिर किसी महक के कारण भी खांसी आ जाया करती है ।

0

 

जयपुर । सर्दी हो या गर्मी खांसी हो जान बहुत ही आम सी बात है । कई बार तो बिना किसी कारण के भी कभी ठसका लग जाने या फिर किसी महक के कारण भी खांसी आ जाया करती है । कई कई लोगों के साथ तो ऐसा भी होता है की हल्की सी खांसी हुई नही की महीनों तक ठीक नहीं होती है ।

खांसी एक बार चलना शुरू हुई तो काफी देर तक रुकती ही नही है । उस समय हालत कुछ ऐसी होती है की प्राण निकाल जाएँ तो ज्यादा अच्छा । पर यदि किसी को काँसी रुकने का नाम ही ना ले तो आप उसकी हालत खुद सोच सकते हैं । पर उसकी वजह कोई सामान्य नहीं निकले तो ?

ऐसा ही एक वाकया सामने आया चीन से । चीन  में रहने वाले एक शख्स को लगातार खांसी की परेशानी हो रही थी इतना ही नही याह परेशानी उसको काफी दिनों से हो रही थी । जब उसने डॉक्टर को दिखाया और छेकप करवाया तो इसकी वजह बीमारी नही बल्कि हैरान कर देने वाली निकली ।

डॉक्टरों ने पहले शख्स का सीटी स्कैन किया लेकिन उन्हें उसमें कुछ पता नहीं चला, जिसके बाद उन्होंने एंडोस्कोपी की एक तकनीक ब्रोकोस्कोपी टेस्ट किया।  इस टेस्ट में डॉक्टरों को पता चला कि शख्स की नाक में 2 लीच यानी कि जोंक रह रही हैं।

इस बात को भी उसने तब गंभीरता से लिया जब उसको खांसी के साथ खून आने की परेशानी होने लगी । अक्सर यह लक्षण कैंसर के होते हैं पर इस केस में वजह कुछ और ही निकली । शख्स का टेस्ट करने के बाद डॉक्टरों को पता चला कि उसकी नाक की दाईं नासिका  में एक जोंक रह रही है और जबकि एक अन्‍य जोंक 3 सेंटीमीटर अंदर ग्लोटिस में रह रही है।  यह वोकल कॉर्ड्स के बीच का हिस्सा होता है। अब  डॉक्टरों ने 2 महीनों से रह रहीं इन दोनों जोंक को व्यक्ति के शरीर से बाहर निकाल दिया है।

इन जोंकों को बाहर निकालने के लिए पहले मरीज को बेहोशी की दवा  दी गई, जिसके बाद चिमटी  की मदद से इन्हें बाहर निकाला गया।  डॉक्टरों का मानना है कि जंगल में काम करने वाले इस शख्स ने पहाड़ों से पानी पीते वक्त बिना एहसास हुए इन जोकों को निगल लिया था।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here