प्रदेश में रोजाना दो किमी हाईवे का हो रहा निर्माण : Yogi

0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2014 के बाद अगर हम प्रतिदिन प्रदेश के अंदर हाईवे निर्माण की स्पीड देखेंगे, तो औसतन लगभग दो किमी हाईवे का निर्माण रोजाना हुआ है। यह विकास की नई कथा को देश के अंदर लिखे जाने की एक नई व्यवस्था है। मुख्यमंत्री ने सोमवार को वाराणसी के खजूरी में वाराणसी-प्रयागराज (एनएच-19) सिक्स लेन चौड़ीकरण परियोजना के लोकार्पण के अवसर पर ये बात कही। यह परियोजना 2,447 करोड़ की लागत से उच्च तकनीक से बने भारत का पहला राजमार्ग है और इसकी लंबाई 73 किमी है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज भारत को दुनिया के सामने जिस मजबूती के साथ रखा है, हम सब देख रहे हैं चाहे, सामरिक ²ष्टि से हो, भारत की सुरक्षा का मामला हो, भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्थानीय उत्पाद को प्रमुखता के साथ आगे बढ़ाने का हो, या फिर विकास की योजनाओं का लाभ एक-एक नागरिक तक पहुंचाने का हो, पूरी प्रतिबद्धता और ईमानदारी के साथ यह कार्यक्रम आगे बढ़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि काशी अपनी पुरातन काया और नए कलेवर के साथ वैश्विक मंच पर एक बार फिर से जगमगा रही है और यह हम सब अहसास कर सकते हैं कि पिछले छह वर्षों के दौरान, करीब 18 हजार करोड़ की परियोजनाएं या तो लोकार्पित हुई हैं या शिलान्यास हुआ है और वर्तमान में ढेर सारी परियोजनाओं पर युद्ध स्तर पर कार्य भी चल रहा है। यह काशी की उस विकास गाथा को आगे बढ़ाने की कहानी है, जिसके लिए काशी का प्रत्येक नागरिक वर्षों से, सदियों से उतावला था।

योगी ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना से देश की 135 करोड़ की आबादी को ना केवल सुरक्षित रखना, बल्कि एक-एक गरीब के घर तक उसकी जरूरत के हिसाब से, उसकी आवश्यकताओं के लिए हर प्रकार की सुविधा और सुरक्षा उपलब्ध कराना, गरीब कल्याण पैकेज के माध्यम से एक लाख 76 हजार करोड़ रुपए की हर गरीब की जरूरत को पूरा करने की योजना हो, आत्मनिर्भर भारत के लिए 20 लाख करोड़ रुपए की, देश की युवाओं के लिए, समाज के विभिन्न तबके के लिए पैकेज की घोषणा के साथ ही उसे सफलता पूर्वक क्रियान्वयन किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के अंदर हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्च र को पूरी मजबूती के साथ आगे बढ़ाने, अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय व्यस्तताओं के साथ काशी के बारे में हर पल, हर क्षण, हर जानकारी रखने और यहां के लोगों की, यहां के विकास की, यहां की आध्यात्मिक परंपरा को आगे बढ़ाने की, निरंतर एक जुड़ाव के साथ आज दुनिया की दो प्राचीन नगरियों को जोड़ने के लिए प्रधानमंत्री का आगमन देव दीपावली के शुभ अवसर पर अपनी पवित्र काशी में हुआ है।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

 

SHARE
Previous articleसैमसंग का सस्ता स्मार्टफोन गैलेक्सी A32 के रेंडर लीक, कैमरा और डिस्प्ले की जानकारी सामने आई
Next articlePM Modi ने कोरोना वैक्सीन विकसित कर रही 3 टीमों से संवाद किया
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here