कांग्रेस को 11 दिसंबर भारी पड़ेगा : छग भाजपा

0
159

भाजपा पदाधिकारियों ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस को 11 दिसंबर के आखिरी सच से सामना भारी पड़ेगा और छत्तीसगढ़ कांग्रेस मुक्त प्रदेश बनेगा। भारतीय जनता पार्टी ने दावा किया कि कांग्रेस अपने राजनीतिक जीवन के अंतिम सत्य का सामना 11 दिसंबर को करेगी। कांग्रेस जनादेश के प्रबल प्रवाह में तिनके की मानिंद बह जाएगी। पार्टी ने कांग्रेस नेताओं को महज अनुमानों की सपनीली दुनिया से बाहर निकलने और भाषा में मर्यादा और संयम बरतने की भी नसीहत दी है।

भाजपा के प्रदेश महामंत्री त्रय- संतोष पांडेय, डॉ. सुभाऊराम कश्यप और गिरधर गुप्ता ने कहा कि एक्जिट पोल के आंकड़ों का संकलन अलग-अलग समय व स्थानों पर किया जाता है और वे एक अनुमान भर होते हैं। प्रामाणिकता तो किसी राजनीतिक दल की सरकार के विकास कार्यों, लोक कल्याणकारी योजनाओं, संगठन-शक्ति और कार्यकर्ताओं के पुरुषार्थ-समर्पण से आती है और भाजपा इस कसौटी पर सौ फीसदी खरी उतरी है।

उन्होंने संयुक्त बयान में कहा कि यूं तो कांग्रेस के नेता मतदान के बाद से ही कुतर्कों का जाल बुन रहे हैं और अपने झूठ के प्रपंच से छत्तीसगढ़ को गुमराह कर रहे हैं।

भाजपा प्रदेश महामंत्रियों ने कहा कि एक्जिट पोल के महज अनुमानित आंकड़ों पर इठलाते कांग्रेस नेता जिस तरह की भाषा बोल रहे हैं, उससे साफ है कि कांग्रेस अपनी तयशुदा हार से बौखला गई है और नितांत अलोकतांत्रिक आचरण पर उतर गई है।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleप्रो कबड्डी लीग : तेलुगू ने जयपुर को 36-26 से हराया
Next articleछत्तीसगढ़ : होटल के कमरे में आईबी के ड्राइवर का शव मिला
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here