राहुल गांधी बोले- हिंदुस्तान के लोगों को कर्ज नहीं पैसे की जरूरत, गरीबों की मदद करे सरकार

0

कोरोना महामारी के चलते देश में 65 दिन से लॉकाडउन लाग है। लॉकडाउन की मार गरीब, मजदूर, किसान और जरूरतमंद लोगों पर पड़ रही है। ऐसे में काग्रेस ने ऑनलाइन अभियान चलाकर मोदी सरकार को निशाने पर लिया है। इसके तहत हर नेता ने सोशल मीडिया पर अपनी मांग रखी।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि आज हिंदुस्तान की जनता को कर्ज की जरूरत नहीं है। उनको सिर्फ नकद पैसों की जरूरत हैं। इसके चलते सरकार अगले 6 मरीने तक गरीब लोगों की आर्थिक मदद करें। राहुल गांधी ने मोदी सरकार के सामने चार मांगे रखी है। राहुल ने कहा कि हर गरीब परिवार के खाते में 7500 रुपये प्रति महीने के हिसाब से दिए जाएं। मनरेगा को सौ दिन की बजाय 200 दिन तक किया जाए। प्रवासी मजदूरों को घर लौटते वक्त सुविधाएं दी जाए। छोटे कारोबारियों के लिए के पैकदज का ऐलान केंद्र सरकार करें।

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। स्पीकअप इंडिया कार्यक्रम का आगाज करते हुए सोनिया ने कहा कि देश की आजादी के बाद पहली बार ऐसा दर्द का तांडव दिखा है। नंगे पैर मजदूर सैंकड़ों किलोमीटर पैदल जाने को मजबूर हो गए हैं। मजदूरों के दर्द को सबने सुना लेकिन सरकार तक नहीं पहुंच पाया।

सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार से अनुरोध किया कि खजाने का ताला खोलिए और जरुरत मंदों की राहत कीजिए। हर गरीब परिवार को 7500 रुपये प्रति महीने के हिसाब से नकद राशि दीजिए। लॉकडाउन में फंसे प्रवासी मजदूरों को सुरक्षित घर पहुंचाया जाए।

Read More….
देश को गर्म हवाओं से मिलेगी राहत! दुनिया का तीसरा सबसे गर्म शहर रहा चूरू….
देश में पिछले 24 घंटे में 6566 नए मरीज आए, अब तक 4531 लोगों ने गंवाई जान…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here