कांग्रेस के बागी पायलट से राहुल गाँधी ने की मुलाकात

0

राजस्थान में लंबे समय तक राजनीतिक द्वन्द चलने के बाद सचिन पायलट और अशोक गहलोत के बीच तनाव को ख़त्म करने के लिए गांधी परिवार ने काफी लंबे समय बाद इस मामले में एंट्री की है। कांग्रेस पार्टी के बागी नेता सचिन पायलट से प्रियंका वाड्रा ने मुलाकात की। गांधी परिवार ने सचिन पायलट से दो बार मुलाकात की। इतना ही नहीं सचिन पायलट से मुलाकात से पहले गांधी परिवार ने अशोक गहलोत से भी बात की है ।

गांधी परिवार और सचिन पायलट की इस मुलाकात का अनुमान लगाया जा रहा है की 14 अगस्त से शुरू होने वाले राजस्थान विधानसभा सत्र के लिए गांधी परिवार सचिन पायलट और अशोक गहलोत के बिच हुए मतभेद को खत्म करने के लिए यह मीटिंग की गई है। सूत्रों ने बताया की सचिन पायलट ने इस मीटिंग में अपनी शर्तें राहुल गांधी के सामने रखी है। सचिन पायलट ने गांधी परिवार से यह मांग की आगे आने वाले समय में उन्हें मुख्यमंत्री बनाया जाए, और कांग्रेस पार्टी जनता के सामने इस बात की घोसणा करे।

सचिन पायलट की शर्तें
सचिन पायलट ने इस मुलाकात में भविष्य में उनको मुख्यमंत्री बनाये जाने की शर्त रखी। उन्होंने कहा की अगर कांग्रेस पार्टी यह ऐलान नहीं कर सकती तो इसकी जगह कांग्रेस को सचिन पायलट गुट के दो नेताओं को उपमुख्यमंत्री बनाना होगा। इसके साथ ही बाकि सदस्यों को कोई न कोई कमान देनी होगी। वही सचिन पायलट ने खुदको दिल्ली पार्टी का राष्ट्रिय महासचिव बनाने की भी मांग रखी है। सचिन पायलट ने कहा अगर कांग्रेस चाहती है की वो पार्टी में वापस आये तो कांग्रेस को बाकयदा यह घोसणा करना होगा की राहुल गांधी सचिन पायलट की सभी शर्तों को पूरा करेंगे।

सचिन पायलट के साथ हुई बैठक में राहुल गांधी ने पायलट से कहा की आप अपने पद पर वापस लौटिए और अपना कार्यभार सम्भालिये। इसके साथ ही राहुल गांधी ने सचिन पायलट को यह विश्वास जताया है की वो सचिन पायलट के साथ आये सभी विधायकों से बात करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here