जजों के चीफ जस्टिस पर लगाए आरोपों को भुनाने की कोशिश में कांग्रेस, जानिये मामला

0
72

आज सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने मिलकर एक प्रेस कान्फ्रेंस की। ये शायद एक ऐसतिहासिक प्रेस कान्फ्रेंस ही है। ऐतिहासिक से ज़्यादा तूफान खड़ा कर देने वाला या यूँ कहें कि बवाल मचा देने वाला। प्रेस कान्फ्रेंस में आए सुप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ जज जस्टिस चेलमेश्वर, जस्टिस मदन लोकुर, जस्टिस कुरियन जोसेफ और जस्टिस रंजन गोगोई। चारों ने एक स्वर में कहा कि कोर्ट के अंदर प्रशासनिक कार्रवाई में कुछ ठीक नहीं चल रहा है। अनियमित्ताओं पर सवाल खड़े किये गए।

प्रेस कान्फेंस के दौरान जब जस्टिस गोगोई से पूछा गया कि क्या ये विवाद जज लोया की संदिग्ध मौत से जुड़ा है? इसके जवाब में जस्टिस गोगोई ने कहा, जी हां

इसके अलावा भी और कई मसले हैं जिसको लेकर जजों के बीच नाराज़गी है। इसी को मद्देनज़र रखते हुए कांग्रेस ने इस मामले को लेकर भुनाने का सोच लिया है। आज शाम तक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के घर कांग्रेसियों की इस मामले को लेकर मीटिंग हो सकती है। इस मीटिंग में कांग्रेस के बड़े नेता और कानून के जानकारों के आने की संभावना है। कांग्रेस इस मुद्दे पर राजनीति करने का सोच रही है। और शायद इससे बड़ा मौका कांग्रेस के पास नहीं हो सकता है क्योंकि इससे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का नाम अप्रत्यक्ष रूप से जुड़ा हुआ है।

इधर सरकार ने भी मुख्य न्यायाधीश पर बात की है। केंद्र सरकार शायद ही इस मसले पर कुछ ना बोले क्योंकि ये पूरा मामला न्यायालय का है और ये मुद्दा पूरी तरह से उसके खिलाफ भी जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here