चीफ जस्टिस के खिलाफ महाभियोग लाने का सोच रही कांग्रेस अब क्यों पलट गई?

0
71

जयपुर। इस साल के शुरु में सुप्रीम कोर्ट के चार न्यायाधीशों के द्वारा कोर्ट के अंदर चल रहे प्रशासन के खिलाफ प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया था कि कोर्ट के अंदर कुछ ठीक नहीं चल रहा है। चारों जजों ने अप्रत्यक्ष रूप से सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पर भी आरोप लगाए थे कि कई सारे मामलों में मुख्य न्यायाधीश खुद ही दखलअंदाज़ी करते हैं।

इन्हीं चार जजों के मसले पर ये क्यास लगाए जा रहे थे कि लोकसभा में कांग्रेस सहित ज़्यादातर विपक्षी दल चीफ जस्टिस के खिलाफ महाभियोग ला सकते हैं। इस महाभियोग के द्वारा चीफ जस्टिस को हटाने का काम किया जा सकता था। इसके लिए राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आज़ाद के द्वारा 60 सांसदों का हस्ताक्षर भी करवा लिए जाने की खबर आ रही थी। कांग्रेस के साथ साथ सपा, बसपा, एनसीपी, त्रिणमूल कांग्रेस के समर्थन की बात भी कही जा रही थी।

लेकिन अब खुद कांग्रेस ने ये साफ कर दिया है कि वो चीफ जस्टिस के खिलाफ कोई अविश्वास प्रस्ताव लेकर नहीं आने वाली है। लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष ने मल्लकार्जुन खड़गे ने मीडिया से बात करते हुए ये कहा है कि महाभियोग का मामला अब बंद हो चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here