गर्भावस्था के दौरान हुआ कोल्ड बन सकता है बच्चे के लिए अस्थमे का कारण

माँ बनना एक महिला के लिए सबसे ज्यादा खुशी का पल होता है जब भी कोई महिला माँ बनती है तो उसके स्वास्थ्य का खानपान का बहुत ज्यादा ध्यान रखा जाता है ।

0
Good looking young pregnant woman feeling ill and suffering from a cold at home

 

जयपुर । माँ बनना एक महिला के लिए सबसे ज्यादा खुशी का पल होता है जब भी कोई महिला माँ बनती है तो उसके स्वास्थ्य का खानपान का बहुत ज्यादा ध्यान रखा जाता है । इसके पीछे कारण यह होता है की वह जो भी खाती है जैसे भी रहती है उसका असर उसके अंदर पालने वाले बच्चे पर पड़ता है ।

इतना ही नही हर माँ के स्वास्थ्य का असर भी बच्चे पर बहुत ज्यादा पड़ता है । आज हम आपको इसी से जुड़ी एक खास जानकारी देने जा रहे हैं आज हम आपको बताने जा रहे हैं की कैसे माँ को हुए एक जुकाम सर्दी की परेशानी भी बच्चे के लिए घातक साबित हो सकती है आइये जानते हैं इस बारे में ।

सर्दी-जुकाम या कोल्ड को हम सभी बहुत हल्के में लेते हैं। इस समस्या को लेकर हमारा रवैया ऐसा रहता है कि हममें से ज्यादातर लोग इसे बीमारी ही नहीं मानते। हालांकि इस दौरान सांस और नींद संबंधी बहुत-सी दिकक्तों का सामना करना पड़ता है। एक नॉर्मल व्यक्ति को कोल्ड जितना परेशान करता है, एक गर्भवती महिला को उससे कहीं अधिक परेशान करनेवाला साबित हो सकता है।

हाल ही हुई एक स्टडी में यह बात सामने आई है कि कोल्ड वायरस गर्भवती महिलाओं में प्लेसेंटा को संक्रमित कर सकता है। प्लेसेंटा एक ऐसा बॉडी ऑर्गन होता है, जो महिलाओं में गर्भावस्था के दौरान यूट्रस में डिवेलप होता है। प्लेसेंटा ही गर्भ में पल रहे बच्चे तक ऑक्सीजन और जरूरी न्यूट्रिशन पहुंचाता है। बच्चे के ब्लड को प्यूरिफाई करता है और वेस्ट मटीरियल बच्चे तक पहुंचने नहीं देता है। साथ ही बच्चा जिस गर्भनाल से जुड़ा होता है, वह प्लेसेंटा से ही डिवेलप होती है। कोल्ड वायरस गर्भ में पल रहे भ्रूण को इतना नुकसान पहुंचा सकता है कि जन्म के बाद बच्चे को अस्थमा जैसी बीमारी घेर सकती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here