चीन के विदेश मंत्री ने की सेना के पीछे हटने की पुष्टि, कहा-तनाव घटाने के लिए उठाए कदम

0

लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच पिछले कई दिनों से तनाव बना हुआ है। अब चीन की सेना ने अपने कदम पीछे खींच लिए हैं। गलवान घाटी में चीन ने 2 किलोमीटर तक अपने टैंट पीछे कर लिए हैं। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में चीन के विदेश मंत्री झाओ लिजियान का बयान छापा है।

ग्लोबल टाइम्स के अनुसार, झाओ लिजियान ने कहा है कि चीन और भारत के बीच कमांडर स्तर पर तीसरे दौर की बातचीत हुई। अब एलएसी पर तनाव को कम करने की दिशा में कदम उठाए जा रहे हैं।

चीन की ओर से ये बयान ऐसे समय में जारी किया गया है जब पेइचिंग ने भारत के चौतरफा दबाव के आगे झुकते हुए गलवान घाटी में अपने सैनिकों को पीछे हटा लिया है। इस बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने चीन के विदेश मंत्री वांग यी से बात की। रविवार को वीडियो कॉल के जरिए दोनों के बीच ये बातचीत हुई। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बातचीत सौहार्दपूर्ण रही।

दोनों देशों की सेनाओं के बीच तनाव कम करने को लेकर कई दौर की बातचीत हो चुकी थी। 6 जून को हुई वार्ता में सीमा से पीछे हटने पर सहमती बनी थी लेकिन 15 जून की रात को चीनी सैनिकों ने घात लगाकर भारतीय जवानों पर हमला कर दिया था। इस हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। में चीन के भी 40 जवान मारे गए थे। तनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को लेह दौरे पर पहुंचे थे। लद्दाख की गलवान घाटी में हिंसक झड़प के 18 दिन बाद पीएम का यह दौरा रहा।

Read More….
देशभर में आज से खुले ऐतिहासिक स्मारक, ताजमहल के दीदार का करना होगा इंतजार
कानपुर एनकाउंटर: चंबल के बीहड़ों में पहुंच गया गैंगस्टर विकास दुबे, चप्पे-चप्पे पर पुलिस की नजर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here