विश्व आर्थिक पुनर्धार में मदद देगा China का आर्थिक विकास

0

वर्ष 2020 में चीन में जीडीपी 1000 खरब तक जा पहुंची, जो कि पिछले साल की तुलना में 2.3 प्रतिशत की वृद्धि हुई। चीन सरकार ने 18 जनवरी को 2020 की जीडीपी रिपोर्ट जारी की, जिस पर लोगों का ध्यान आकर्षित हुआ। वर्ष 2020 में कोविड-19 विश्व भर में फैला और विश्व अर्थतंत्र मंदी में फंस गया, जबकि चीनी अर्थतंत्र की स्थिर बहाली हुई। अनुमान है कि चीन विश्व में एकमात्र आर्थिक विकास करने वाला प्रमुख आर्थिक इकाई बनेगा। यह कोई मामूली बात नहीं है।

वर्ष 2020 में चीन ने सर्वप्रथम महामारी पर नियंत्रित किया, सर्वप्रथम उत्पादन पुन:शुरू किया और सर्वप्रथम आर्थिक विकास प्राप्त किया। पूरे साल चीन ने 1.186 करोड़ लोगों को नयी नौकरियां दीं। सीपीआई भी अनुमानित लक्ष्य से नीचे रहा, लोगों की आमदनी आर्थिक विकास के साथ आगे बढ़ी। चीन के विदेशी व्यापार में भी इजाफा हुआ। चीन की सरकारी कार्य रिपोर्ट में पेश किये गये विकास लक्ष्य को पूरा किया जा चुका है।

उल्लेखनीय बात यह है कि महामारी के झटके में चीन में नये उद्योग, नये व्यवसाय और नये उत्पादकों का तेज विकास हुआ है। वर्ष 2020 में देश की जीडीपी में सेवा उद्योग का अनुपात 54.5 प्रतिशत तक जा पहुंचा, जो 2019 की तुलना में 0.2 प्रतिशत अधिक रहा। चीन में उच्च तकनीक उद्योग और सामाजिक क्षेत्र का निवेश भी 2019 की तुलना में 10 प्रतिशत ज्यादा रहा है, जिससे यह साबित हुआ है कि चीन में मांग ढांचे के बंदोबस्त में नयी प्रगति मिली है।

वर्ष 2020 में चीन में ऑनलाइन बिक्री 117.6 खरब चीनी युआन को पार कर गई, जो वर्ष 2019 की तुलना में 10.9 प्रतिशत अधिक रही। तेज विकसित डिजिटल अर्थतंत्र ने प्रबल रूप से चीनी उपभोग के पुनर्धार को आधार दिया है। इतना ही नहीं, चीन सरकार ने लोगों को रोजगार देने, बुनियादी जन-जीवन को सुनिश्चित करने और बाजार की रक्षा करने के लिए सिलसिलेवार कदम भी उठाए हैं।

आर्थिक भूमंडलीकरण के मौजूदा जोखिमों और चुनौतियों के सामने कोई भी अकेला नहीं रह सकता है। चीन इस बात को अच्छे से जानता है। चीन ने दुनिया के समक्ष मानव साझे भाग्य वाले समुदाय की रचना पर प्रस्ताव पेश किया।

वर्ष 2020 एक असाधारण साल रहा है। चीन के अर्थतंत्र ने उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल कीं, लेकिन चीन यह भी देखता है कि महामारी की स्थिति अभी भी गंभीर है और बाहरी वातावरण में अनेक अनिश्चितता मौजूद है। चीन 14वीं पंचवर्षीय योजना को सुनिश्चित करने के लिए प्रयास कर रहा है। जैसा कि मैक्सिको के चीनी मामले के विशेषज्ञ लाल्वोसा ने कहा, ‘विश्व आर्थिक विकास की प्रमुख इंजन होने के नाते चीन विश्व आर्थिक पुनरुत्थान के लिए योगदान दे सकेगा।’

नयूज स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleSkullcandy Jib True TWS ने भारत में 22 घंटे तक की बैटरी लाइफ लॉन्च की,जानें पूरी रिपोर्ट
Next articleChina की मुख्य भूमि में कोविड-19 के 109 नए पुष्ट मामले
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here