चीन सरकार ने दिया आदेश,बीजिंग से हटाए जाए मुस्लिम समुदाय से जुड़े प्रतीेक

0

जयपुर।चीन की सरकार ने चीन में एक आदेश पारित कर चीन की राजधानी बीजिंग में से इस्लामिक धर्म प्रतीकों को हटाया जा रहा है। चीनी सरकार ने हलाल रेस्टोरेंट से लेकर फूड स्टाल तक,हर जगह से अरबी भाषा में लिखे शब्दों और इस्लाम समुदाय के प्रतीकों का नामो-निशान मिटाने का आदेश दिया है।

बताया जा रहा है कि चीन ऐसा इसलिए कर रहा है ताकि उसके राज्य के सभी धर्म चीन की मुख्य धारा की संस्कृति के अनुरूप हो जाये। चीन में साल 2016 से ही अरबी भाषा और इस्लामिक तस्वीरो के इस्तेमाल के खिलाफ यह मुहिम चलाई जा रही है।

चीन के प्रशासन ने बीजिंग में 11 रेस्तरां और दुकानों को इस्लाम से जुड़ी सभी तस्वीरों जैसे- चांद,अरबी भाषा में लिखा हलाल शब्द बोर्ड से हटाने का आदेश दिया है।चीन के सरकारी कर्मचारियो ने बीजिंग में नूड़ल्स की एक दुकान के मैनेजर को दुकान पर लिखे हलाल शब्द को ढकने के लिए कहा और ऐसा होने तक वह वहीं खड़े रहे।इस दुकान के मैनेजर ने बताया कि चीन के सरकारी कर्मचारियों ने उससे कहा कि यह विदेशी संस्कृति है और आपको चीनी सभ्यता को अपनाना चाहिए।

चीन के शिनजियांग प्रांत में साल 2009 में उइगर मुस्लिमों और चीनी नागरिकों के बीच दंगे भड़क गए थे।इसी के बाद से चीन ने कथित आंतकवाद रोधी अभियान शुरू किया। उन्हें सामूहिक हिरासत केंद्र में रखने के कदम भी उठाए जिनका पश्चिमी देश काफी आलोचना कर रहे है।

इसे लेकर चीनी सरकार ने तर्क दिया था कि,शिनजियांग में उसकी कार्यवाही धार्मिक चरमपंथी को रोकने के लिए की गई है।चीन के अधिकारियों व्दारा इस्लामीकरण के प्रसार के खिलाफ चेतावनी जारी की गई है और मुस्लिम अल्पसंख्यकों पर नियत्रंण भी मजबूत तरीके से किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here