चीन ने भी माना कि भारत वैश्विक आतंकवाद का शिकार,एक खास रिपोर्ट में दावा

0
53

जयपुर।भारत का हर बात में विरोध करने वाले देश चीन ने भी स्वीकार किया है कि दुनियाभर में फैल रहे आतंकवाद और कट्टरपंथ का भारत शिकार बना हुआ है। चीन एक तरफ पाकिस्तान का हमदर्द बनते हुए भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर के विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करते हुए अनुच्छेद 370 और 35 ए को हटाए जाने के फैसले को संयुक्त राष्र्ट की सुरक्षा परिषद में ले गया था।

वहीं अब दूसरी ओर चीन द्वारा जारी श्वेत पत्र में स्वीकार किया गया है कि भारत दुनियाभर में फैल रहे आतंकवाद और कट्टरपंथ का शिकार बना हुआ देश है।

पीपुल्स रिपब्लिक आॅफ चाइना के स्टेट काउंसिल आॅफ इंफोरमेंशन आॅफिस द्वारा शुक्रवार को वोकेशनल एजुकेशन एंड ट्रेनिग इन शिंजियांग में जारी किया गया है जिसमें आतंकी हमलो से प्रभावित देशों की सूची में भारत का भी जिक्र किया गया है।

इस रिपोर्ट के अनुसार,’1990 से दुनिया में फैल रहे और बढ़ रहे आतंकवाद व कट्टरपंथ ने कहर बरपाया है। कट्टरपंथ,आतंकी हमलों और संबंधित घटनों से अमेरिका,यूनाइटेड किंगडम,फ्रांस, जर्मनी, स्पेन, बेल्जियम, रूस, तुकीर्, मिस्र, भारत, इंडोनेशिया, न्यूजीलैंड, श्रीलंका और अन्य देशों व क्षेत्रों में भारी तबाही मची है और जानमाल का नुकसान भी हुआ है।’

चीन के इस श्वेतपत्र के अनुसार,’चीन को तोडने के लिए धार्मिक कट्टरपंथीर ताकते कोशिश कर रही है और लगातार आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे रही है।वर्षो से धार्मिक कट्टरपंथ शिन्जियांग में अपनी पैठ बना रहा है और आतंकवादी घटनाओं को अंजाम देने की कोशिश कर रहा है।”इसलिए चीन ने इस क्षेत्र को सील बंद कर वहां की कट्टरपंथीता पर अंकुश लगाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here