Yogi ने लिया बनारस का जायजा, बोले दिव्य होगी काशी की देव-दीपावली

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के देव दीपावली पर 30 नवंबर को वाराणसी मिर्जामुराद के खजुरी में आगमन को देखते हुए शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे। आदित्यनाथ ने कहा कि इस बार काशी की देव-दीपावली दिव्य होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, शुक्रवार को वाराणसी में 30 नवम्बर को प्रधानमंत्री के आगमन के दृष्टिगत तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि धार्मिक और सांस्कृतिक महत्व रखने वाले इस पर्व पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की काशी में उपस्थिति समारोह को विशिष्ट शोभा प्रदान करेगी। प्रधानमंत्री के विभिन्न कार्यक्रमों के सुव्यवस्थित आयोजन और देव-दीपावली को भव्य-दिव्य बनाने के लिए प्रदेश सरकार कोई कमी नहीं छोड़ेगी।

खजूरी पहुंचे योगी ने प्रधानमंत्री मोदी के जनसभा स्थल पर हो रही तैयारियों को देखा। इसके बाद मुख्यमंत्री का काफिला डोमरी पहुंचा, जहां उन्होंने क्रूज से राजघाट और भैंसाकुण्ड घाट तक भ्रमण किया। योगी ने घाट किनारे चल रही तैयारियों को बारीकी से देखा और आवश्यक निर्देश दिए। संभावना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां गंगा-विहार करेंगे।

राजघाट पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां संत शिरोमणि रविदास मंदिर में माथा टेका। इस दौरान योगी ने आगंतुक पंजिका में अपना संदेश लिखा। योगी ने लिखा सिद्घ संत रविदास जी की पावन स्थली पर आज दर्शन का सौभाग्य प्राप्त हुआ। संत रविदास जी ने अपनी साधना से भारत की सनातन परंपरा को नई पहचान दी। ऐसे पूज्य संत को कोटि-कोटि नमन। प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां गंगा-विहार करेंगे।

वाराणसी भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री श्री काशी विश्वनाथ मंदिर भी गए और काशी विश्वनाथ कॉरीडोर के कामों की प्रगति को जाना। प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार 30 नवम्बर को पीएम मोदी यहां भी आएंगे। श्री काशी विश्वनाथ के दर्शन करने के बाद वह राजघाट में एक संक्षिप्त कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे। प्रधानमंत्री द्वारा घाट पर दीपदान किया जाएगा। शाम को सर्किट हाउस में अधिकारियों के साथ विस्तृत समीक्षा करते हुए सीएम योगी ने देव दीपावली कार्यक्रम को सुव्यवस्थित और ऐतिहासिक बनाने के लिए हर सम्भव प्रयास करने के निर्देश दिए। सीएम योगी ने सारनाथ में भगवान बुद्घ की पुण्य स्थली का भी दौरा किया और भगवान बुद्घ की जीवन पर आधारित लाइट एंड साउंड शो का अवलोकन भी किया।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleAstrology tips: घर में जरूर रखें ये चीजें, बनी रहती है संपन्नता और शांति
Next articleAUS vs IND: हो गई भविष्यवाणी- ‘ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीनों सीरीज बुरी तरह हारेगी टीम इंडिया’
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here