बदलाव /रामलला के मंदिर से बदल जाएगी अयोध्या की अर्थव्यवस्था, सैकड़ों रोजगार निकलने की संभावना

0

जयपुर। राम जन्मभूमि परिसर को लेकर 100 साल से अधिक पुराने विवाद के सुलझने के बाद अब अयोध्या में अर्थव्यवस्था में बदलाव आने की उम्मीद लोगों में लगाई जा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स में विशेषज्ञों का भी मानना है कि अयोध्या में वैष्णो देवी और तिरुपति की तर्ज पर एक नया और एक बड़ा धार्मिक पर्यटन केंद्र का विकास कर आ जाएगा। जहाज के चलते वहां पर रोजाना एक लाख तक श्रद्धालुओं और पर्यटकों के पहुंचने की संभावना है। जिसके चलते योग्य और उसके आसपास के एक बड़े हिस्से में पर्यटन अर्थव्यवस्था का विकास किया जाएगा और इससे बड़े पैमाने पर रोजगार का सृजन होगा।

आपको बता दें कि सभी मैं यह उम्मीद लगातार लगाई जा रही है और अखबारों में आ रही खबर के अनुसार मुंबई के एक शेयर कारोबारी विजय केडिया का मानना है कि अयोध्या में मंदिर और मस्जिद बनाने और शांति होने से वहां पर्यटकों और श्रद्धालुओं का तांता लग जाएगा। ही पर्यटकों की संख्या में रोजाना एक लाख तक पहुंचने की उम्मीद भी जताई जा रही है।

इसके अलावा आपको बता दें कि वहां पर लगातार की कोशिश करी जा रही है कि अब सरकार की तरफ से वहां पर पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा इसके साथ-साथ लोगों को अब रोजगार मिलेगा इसके साथ-साथ अगर पर्यटन बढ़ेगा तो सीधे तौर पर वहां पर मौजूद लोगों को इससे फायदा होगा और वह अपना रोजगार बढ़ा सकेंगे।

इसके अलावा मौजूदा सरकार ने अपने दो बार के घोषणा-पत्र में राम मंदिर के बनाने को लेकर वादा किया था वैसे मैं की सरकार की जिम्मेदारी है कि विशाल राम मंदिर बनाए या ना बनाए लेकिन इतना जरूर तय करे कि वह अयोध्या का निर्माण और अयोध्या का विकास कर सके ताकि आने वाले पर्यटकों को सहूलियत मिल सके और इसी मंदिर के बहाने एक शहर देश का हिस्सा बन सके जो पूरे विश्व में अपना नाम कमा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here