Chandra grahan: 30 नवंबर को लग रहा उपछाया चंद्र ग्रहण, बरतें ये सावधानियां

0

30 नवंबर को चंद्र ग्रहण लगने जा रहा हैं यह इस साल का आखिरी चंद्र ग्रहण हैं जो उपछाया चंद्र ग्रहण होगा। धार्मिक और ज्योतिष से जोड़ कर देखा जाए तो ग्रहण का लगना अशुभ माना जाता हैं ग्रहण में लगने वाले सूतक का विचार किया जाता हैं ज्योतिष अनुसार उपछाया चंद्र ग्रहण के कारण इस बार सूतक काल मान्य नहीं रहेगा। ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए तो आज हम आपको उन्ही बातों के बारे में बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।

चंद्र ग्रहण इस बार 30 नवंबर को दोपहर 1 बजकर 4 मिनट से शुरू हो रहा हैं जो शाम 5 बजकर 22 मिनट पर समाप्त हो जाएगा। चंद्र ग्रहण का परमग्रास दोपहर 3 बजकर 13 मिनट पर होगा। ग्रहण काल में गर्भवती महिलाओं के लिए अधिक विचार किया जाता हैं ऐसा माना जाता हैं कि ग्रहण के हानिकारक प्रभाव से गर्भ में पल रहे शिशु के शरीर पर उसका नकारात्मक असर होता हैं इसलिए गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के दौरान बाहर नहीं निकलने की सलाह दी जाती हैं। वही ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के सीधे प्रभाव में न आने के साथ साथ उन्हें चाकू छुरी या तेज धार वाले हथियार का प्रयोग नहीं करना चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से गर्भ में पल रहे शिशु के शरीर पर बुरा असर होता हैं इसके साथ ही ग्रहण की अवधि में सिलाई कढ़ाई का काम भी न करें और न ही किसी तरह की चीजों का सेवन करना चाहिए।

ग्रहण के दौरान खिड़कियों को अखबारों या मोटे पर्दों से ढक देना चाहिए। जिससे ग्रहण की कोई भी किरण घर में प्रवेश न कर सके। ग्रहण के दौरान या पहले भोजन बना हुआ है तो उसे फेंकना नहीं चाहिए बल्कि उसमें तुलसी के पत्ते डालकर उसे शुद्ध कर लेना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here