कोरोना संकट में केंद्र का बड़ा फैसला! सरकार ने नई योजनाओं पर लगाए ब्रेक

0

देश में कोरोना संकट के बीच केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। मोदी सरकार ने कहा है कि 31 मार्च 2020 तक किसी भी नई योजना की शुरुआत नहीं की जाएगी। यानी अब अगले साल तक केंद्र सरकार कोई नई योजना का ऐलान नहीं कर सकेंगी।

सरकार ने ये फैसला कोरोना महामारी संकट से उपजे हालातों के मद्देनजर लिया है। आत्म निर्भर भारत अभियान पैकेज, पीएम गरीब कल्याण पैकेज और किसी अन्य पैकेज के तहत घोषित प्रस्तावों को छोड़कर कोई नई योजना की शुरुआत नहीं की जाएगी। नई योजना/उप योजना चाहे वो मंत्रालय या एसएफसी प्रस्तावों या ईएफसी के माध्यम से 2020-21 में शुरू नहीं हो सकेगी।

नई योजनाओं को लेकर वित्त मंत्रालय इस वित्त वर्ष में मंजूरी प्रदान नहीं करेगा। पहले से स्वीकृत नई योजनाओं की शुरुआत भी 31 मार्च 2021 तक एक वर्ष के लिए निलंबित कर दी गई है। केंद्र सरकार ये फैसला पहले ही ले चुकी थी कि पहले पुरानी योजनाओं को पूरा किया जाएगा। इसके बाद नई योजनाओं की शुरुआत होगी। लेकिन कोरोना संकट के बीच इस फैसले को और कड़ाई से लागू किया जा रहा है।

बता दें कि कोरोना पर कंट्रोल करने के लिए केंद्र सरकार ने 25 मार्च से लॉकडाउन लागू किया था। इस बीच देश की आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह से ठप हो गई। राज्य सरकारों के पास भी बजट का टोटा पड़ गया। कोरोना संकट के बीच केंद्र सरकार ने इकोनॉमी को रफ्तार देने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया है। आत्म निर्भर भारत के सपने को साकार करने के लिए केंद्र सरकार ने जोर दिया है।

Read More…
10 लाख करोड़ की मार्केट कैप के साथ RIL बनी देश की सबसे बड़ी कंपनी….
8 जून से खुलेंगे रेस्टोरेंट! हर इस्तेमाल के बाद टेबल होगी सैनिटाइज, जान लें नए नियम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here