सावधान: ज्यादा ठंडा पानी पीना भी हो सकता है नुकसानदायक, जानें इसकी हानियां

0
168

गर्मी का मौसम आपके शरीर औऱ दिमाग को बहुत जल्द थकान देने वाला होता है। इसलिए बार-बार पानी पाते रहना बेहद आवश्यक हो गया है। अकसर कई लोगों को धूप से निकलते ही ठंडा पानी पीने का चस्का चढ़ जाता है। लेकिन बता दें कि उनका यह आदत शरीर को कई गुना नुकसान पहुंचा सकती है। आयुर्वेद में भी इस आदत को हानिकारक बताया गया है इससे आपका त्वचा से लेकर पाचन तक कई समस्याओं का सामना करना पड सकता है। ये सभी समस्याएं आपको तोडकर रख देती हैं। कुछ इसी प्रकार की घातक समस्याओं के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं-

पाचन संबंधी समस्या

अचानक से बहुत ज्यादा ठंडा पानी पीना आपके पाचन तंत्र को नुकसान पहुंचा सकता है। इससे आपके रक्त वाहिकाओं में सिकुड़न पैदा हो जाती हैं औऱ पेट में खून की आपूर्ति बाधित होने लगती है। इसी कारण आपके पेट में खाना पचाने में दिक्कत होती है।

पोषण में कमी

इंसान के शरीर का सामान्य तापमान 37 डिग्री सेल्सियस तक होता है इसिलए अगर आप अचानक ठंडा पानी पीने लगते हैं तो आपके शरीर की ऊर्जा प्रभावित होती है। ऊर्जा का अधिकतर प्रयोग पोषक तत्वों को अवशोषित करने के लिए किया जाता है। लेकिन ठंडा पानी पीने से यह काम बाधित हो जाता है।

गला खराब

अधिक ठंडा पानी पी लेने से गला खराब और सर्दी जुकाम की दिक्कत खडी हो सकती है। विशेषज्ञों के मुताबिक, ठंडा पानी आपेक शरीर में रेस्पिरेटरी म्यूकस का निर्माण करता है, जिससे रेस्परेट्री ट्रैक्ट पर प्रबाव पडता है। इसी कारण इन्फेक्शन व गले की खराश जैसी समस्यओं का खतरा बढ जाता है।

दिल की धड़कन

अचानक से ठंडा पानी पी लेने से दिल की धडकनें भी प्रभावित होती है। हालिया शोध में सामने आया है कि ठंडा पानी पीने से वैगस तंत्रिका उत्तेजित हो जाती है और हार्ट रेट घट जाती है। इससे आपका दिमाग भी स्थिर हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here