सावधान! अगर जाना चाहते हैं अमरनाथ धाम तो आप भी हो सकते हैं आतंकियों के निशाने पर

0
2229
pak-militants-terrorists attack on amrnath tourist

जम्मू—कश्मीर। 29 जून से अमरनाथ यात्रा शुरू होने वाली है और यह यात्रा सात अगस्त यानि रक्षा बंधन के दिन समाप्त होगी। लेकिन पेरशानी वाली खबर यह है कि इस बार आंतकियों के अगले निशाने पर अमरनाथ यात्री हैं।

अमरनाथ यात्रा के दौरान इस तरह की कोई घटना नहीं हो इसलिए सुरक्षा बलों ने पहले से ही ऑपरेशनल और प्रशासनिक पहलू से जुड़ी रणनीति तैयार कर रखी है। आतंकी बड़ी संख्या अमरनाथ यात्रियों की हत्या कर देश में सांप्रदायिक दंगों कों अंजाम देना चाहते हैं।

जरूर पढ़ें :  पीएम मोदी ने कहा सिर्फ इस देश ने उठाया था सवाल जब भारत ने दिखाई थी ताकत!…

आपको जानकारी के लिए बतादें कि 29 जून से शुरू होने वाली अमरनाथ यात्रा पहलगाम मार्ग और गंदेरबल जिले के बालटाल मार्ग से जाएगी। यह यात्रा कुल 40 दिन चलेगी।

amarnath-yatra

सूचना मिली है कि आतंकी कम से कम 100 से 150 अमरनाथ यात्रा के श्रद्धालुओं की हत्या करना चाहते हैं। इस दौरान आतंकियों ने बड़े स्तर पर सुरक्षा बलों के जवानों को भी निशाने पर लेने की योजना बनाई है।

जरूर पढ़ें :  देखिए कश्मीर में ईद के दिन पत्थरबाजों ने की ऐसी नापाक हरकत, लगा रहे हैं देशद्रोह वाले नारे!…

ये आतंकी चाहते हैं कि ऐसा करके वे देशभर में सांप्रदायिक दंगे शुरू कराने में कामयाब हो जाएंगे। जिससे उनका काम आसान हो जाएगा और देशविरोधी तत्व एक बार फिर सक्रिय हो जाएंगे।

गौतलब है कि इस सूचना के बाद सुरक्षाबलों की ओर से पहलगाम और बालटाल के दो मार्गों पर कुल 24 बचाव दल और 35 डॉग् स्क्वॉड टीम की भी तैनाती की जाएगी। इन दलों में राज्य पुलिस, राज्य आपदा राहत बल, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के जवानों की तैनाती होगी साथ ही आक्सीजन सिलेंडर सहित अन्य बचाव उपकरण भी उपलब्ध कराए जाएंगे।

जरूर पढ़ें : इसरो की ये 13 सैटेलाइट्स करेंगी धरती और आकाश में दुश्मनों की निगरानी, इंडियन आर्मी की ताकत बढ़ी…

सशस्त्र पुलिस बल के आठ पर्वतीय टीमों को मार्ग में महिलाओं और बुजुर्ग श्रद्धालुओं की मदद के लिए तैनात किया जाएगा। यहीं नहीं राष्ट्रीय राजमार्गों पर सुरक्षा बलों द्वारा 24 घंटे गश्ती करने की व्यवस्था की जाएगी। अमरनाथ के श्रद्धालुओं के लिए 12 हिमस्खलन बचाव दल और एसडीआरएफ के 11 दल, सीआरपीएफ के एक दल की तैनाती की जाएगी।

राजनीति की लेटेस्ट जानकारी पाएं हमारे FB पेज पे.
अभी LIKE करें – समाचार नामा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here