परीक्षार्थी को पसंद आया नेट का नया पैटर्न

अब नेशनल टेस्टिंग एजेंसी कराएगी नेट की परीक्षा

0
475

सीबीएसई की ओर से आयोजित राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा रविवार को आयोजित हुई। जयपुर और अजमेर में 82 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। लगभग 58000 अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन करवाया था। करीब 16 हजार अभ्यर्थी परीक्षा के दौरान अनुपस्थित रहे।

देशभर के 91 शहरों में यह परीक्षा आयोजित की गई थी। परीक्षा में दो पेपर हुए। राजस्थान में अजमेर, जयपुर, जोधपुर, उदयपुर, बीकानेर और कोटा में परीक्षा आयोजित करवाई गई। इस दौरान अभ्यर्थी परीक्षा के पैटर्न में किए बदलाव से खुश दिखे। हालांकि टाइम मैनेजमेंट अभ्यर्थियों के लिए परेशानी का सबब बना।

आपको बता दें कि नेट की परीक्षा में अब से पहले तीन पेपर होते थे। पहला कॉमन टीचिंग एबिलिटी का होता था, जबकि दो अन्य पेपर सब्जेक्टिव होते थे। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग(यूजीसी) ने इस बार इसका पैटर्न बदलकर तीन के स्थान पर सिर्फ दो पेपर ही करवाए। जिसमें एक टीचिंग एबिलिटी और दूसरा अभ्यर्थियों के विषय से संबंधित था। पहले पेपर में 50  प्रश्न थे और दूसरे में 100 प्रश्न पूछे गए थे।

अब नेशनल टेस्टिंग एजेंसी कराएगी नेट की परीक्षा

सीबीएसई कई वर्षों से नेट की परीक्षा आयोजित करवा रहा था, लेकिन इस बार यह सीबीएसई की अंतिम परीक्षा थी। अब एचआरडी मंत्रालय ने नेट की परीक्षा के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी(एनटीए) का गठन कर दिया है। अब सभी प्रतियोगी परीक्षाएं यही एजेंसी आयोजित करवाएगी। दिसंबर में आयोजित होने वाली परीक्षा भी यह एजेंसी ही करवाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here