कैंसर मरीजों के इलाज में मदद करेगी टोमोथेरेपी ‘रेडीजैक्ट एक्स9’

0
165

हेल्थकेयर ग्लोबल इंटरप्राइजेज लिमिटेड (एचसीजी) ने गुरुवार को भारत में कैंसर मरीजों के इलाज के लिए नए युग की टोमोथेरेपी ‘रेडीजैक्ट एक्स9’ पेश की। ‘रेडीजैक्ट एक्स9’ पूर्णत: इंटीग्रेटेड 3डी कन्फॉर्मल एवं इमेज गाईडेड इंटेंसिटी मॉड्युलेटेड रेडिएशन थेरेपी (आईजी-आईएमआरटी) सिस्टम और साईबरनाईफ रोबोटिक रेडियोसर्जरी सिस्टम है।

हेल्थकेयर ग्लोबल इंटरप्राईजेस (एचसीजी) के चेयरमैन एवं सीईओ डॉ. बीएस अजयकुमार ने कहा, “एचसीजी कैंसर के मरीजों को प्रेसिजन ट्रीटमेंट प्रदान करेगा। टोमोथेरेपी ‘रेडीजैक्ट एक्स9’ को अपनाने का अभ्यास एवं हमारी क्लिनिकल विषेशज्ञता द्वारा हम प्रेसाईज एवं पर्सनलाईज्ड केयर के नजदीक बढ़े हैं, जिससे कैंसर के मरीजों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार भी हुआ है।”

एचसीजी के एको कैंसर सेंटर के रेडिएशन ऑन्कोलॉजी हेड डॉ. अयान बसु ने कहा, “एचसीजी एको में भारत की पहली रेडीजैक्ट एक्स9 के संयोजन के साथ नए युग की टोमो थेरेपी और रेडियोथेरेपी की टीम मरीजों को कई प्रमुख फायदे प्रदान करेगी, जिनमें क्विक, एक्युरेट, दैनिक सीटी स्कैन गाईडेड, एडैप्टेबल, अत्यधिक कॉन्फॉर्मल रेडियोथेरेपी शामिल है, जो ऑन्कोलॉजिस्ट्स को हर तरह के कैंसर के सटीक इलाज का आत्मविश्वास देती है।”

कैंसर के ग्लोबोकैन अभियान पर शोध के लिए इंटरनेशनल एजेंसी के डेटा के अनुसार, भारत में कैंसर के नए मामलों की संख्या 2012 में 10 लाख प्रतिवर्ष से बढ़कर 2030 तक 15 लाख प्रतिवर्ष हो जाएगी।

डेटा के अनुसार, पश्चिम बंगाल और पड़ोसी राज्यों में सिर व गले, ओरल, पेट एवं फेफड़ों, यूरिनरी ब्लैडर के कैंसर के मामले ज्यादा होते हैं। ये तम्बाकू के उपयोग और हवा एवं पानी के प्रदूषण के कारण होते हैं।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleअयोध्या पर अध्यादेश या फिर 92 जैसा आंदोलन छेड़ेंगे: RSS
Next articleछोटी दिवाली, नरक चतुर्दशी: अकाल मृत्यु और नर्क के भय से बचाएंगे ये सरल उपाय
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here