वास्तुटिप्स: इस दिशा के वास्तुदोष को समाप्त करने के लिए जलाएं लाल रंग का बल्ब

0

आपको बता दें, कि वास्तुशास्त्र में दिशाओं को बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता हैं वही अगर आपके घर की आग्नेय दिशा में कोई वास्तु दोष हैं तो उसे लाल रंग का एक बल्ब या फिर एक दीपक को इस तरह से जालए कि वह लगभग एक प्रहर यानी की तीन घंटे जलता रहें। वही इसके लिए भगवान श्री गणेश जी की मूर्ति की स्थापना करना भी शुभ माना जाता हैं। वही इस दोष के निवारण के लिए आग्नेय दिशा में मनीप्लांट लगाना भी शुभ होता हैं वही इस दिशा में सूरजमुखी के पुष्प, पालक, तुलसी, गाजर,अदरक, हरी मिर्च, मेथी, हल्दी, पुदीना और करी पत्ता भी लगाना शुभ माना जाता हैं।

वही वास्तुविज्ञान के विशेषज्ञ के मुताबिक इस दिशा के दोष के निवाराण के लिए रेशमी परिणान, वस्त्र, सौंदर्य की वस्तुएं घर की स्त्रियों को देकर प्रसन्न रखें। वही इस दिशा में शुक्र यंत्र लगाना भी शुभ माना जाता हैं वही इस तरह दक्षिण दिशा के दोष के निवारण के लिए घर का भारी से भारी सामान इस दिशा में रखना चाहिए। वही साथ ही साथ मंगल ग्रह के मंत्रों का दाना करना भी शुभ माना जाता हैं। वही दक्षिण दिशा की दीवार पर लाल रंग का पवनपुत्र हनुमान जी का चित्र लगाना भी शुभ माना जाता हैं वही दक्षिण दिशा दीवार पर मंगल यंत्र की स्थापना की जानी चाहिए। वही अगर इस क्षेत्र में खाली जगह हो तो वहा पर कोई न कोई वस्तु रखनी चाहिए। वही नेत्रत्य दिशा का दोष समाप्त करने के लिए भारी मूर्तियों को रखा जा सकता हैं। वही साथ ही साथ वाणी पर नियंत्रण रखना चाहिए। नेत्रत्य दिशा में राहु के मंत्रों का जाप करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here