Budget Session का दूसरा चरण, तेल की कीमतों पर RS में हंगामा, हंगामे को लेकर…..

0

सोमवार को राज्यसभा में कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी सदस्यों ने विभिन्न पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में बढ़ोतरी को लकेर हंगामा किया। इसके चलते उच्च सदन की बैठक करीब एक घंटे के लिए स्थिगित कर दी गई। राज्यसभा में विपक्षी दलों के नेताओं ने जोरदार नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। उन्होंने सरकार होश में आओ के नारे लगाए।

सभापति एम वेंकैया नायडू ने उन्हें टोका और कहा कि आप होश में आकर नियम समझने की कोशिश करें। वेकैंया नायडू ने शून्यकाल में कहा कि उन्हें नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खडगे की तरफ नियम 267 के तहत कार्यस्थगन नोटिस मिला है जिसमें उन्होंने पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में बढ़ोतरी के मुद्दे को लेकर चर्चा का अनुरोध किया है। नायडू बोले कि उन्होंने इसे स्वीकार नहीं किया है। इसका कारण है कि सदस्य मौजूदा सत्र में विनियोग विधेयक पर चर्चा के दौरान अपनी बात रख सकते हैं।लेकिन कांग्रेस नीत विपक्ष इस मुद्दे को उठाने की मांग करता रहा।

कांग्रेस सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि पेट्रोल और डीजल की कीमतें 100 रुपये और 80 रुपये प्रति लीटर तक जा पहुंची है। रसोई गैस की कीमतें भी बढ़ गई हैं। एक्ससाइज ड्यूटी लगाकर सरकार ने 21 लाख करोड़ रुपये एकत्रित किए हैं। इसके चलते किसानों का साथ-साथ पूरा देश महंगाई की मार से जूझ रहा है। खड़गे ने कहा कि पेट्रोल और डीजल पर 200 प्रतिशत टैक्स बढ़ा दिया गया है। इस मुद्दे को लेकर संसद में चर्चा करने की खासी जरूरत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here