ब्रिटेन का बड़ा बयान किसी भी भारत विरोधी गतिविधि का समर्थन नहीं

0

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री का भारत को लेकर एक बड़ा बयान देखने को मिला है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने भारत को विश्वास दिलाया और आश्वासन भी दिया की ब्रिटेन में हो रहे किसी भी भारत विरोधी व खालिस्तानी गतिविधि का ब्रिटेन किसी भी तरह से समर्थन नहीं करता है। बुधवार को हुई एक बैठक में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने यह आश्वासन दिया। ब्रिटिश सिख एसोसिएशन के चेयरमैन लार्ड रामी रेंजर ने प्रधानमंत्री के इस कथन की पुष्टि की। आपको बता दे की लार्ड रामी रेंजर के साथ-साथ कंजरवेटिव पार्टी के वरिष्ठ सदस्यों के अलावा चांसलर ऋषि सुनक भी इस बैठक में शामिल हुए थे।

बैठक में मौजूद लार्ड रामी रेंजर ने बताया की, “मैंने पीएम जॉनसन से कहा कि कुछ अलगाववादी संगठन खालिस्तानी गतिविधियों में संलिप्त है. इस पर उन्होंने साफ शब्दों में आश्वासन दिया कि ब्रिटिश सरकार ऐसे किसी भी संगठन या भारत विरोधी किसी भी गतिविधि का समर्थन नहीं करती.’’

कौन है लार्ड रामी रेंजर ?

लार्ड रामी रेंजर का जन्म भारत के गुजरावाला में हुआ जो की बटवारे के बाद पाकिस्तान के हिस्से में चली गयी। लार्ड रामी के पिता ने भारत-पाकिस्तान बटवारे का विरोध किया था जिस वजह से उनकी हत्या कर दी गयी थी। लार्ड रामी रेंजर ने अपने बलबूते पर ब्रिटेन के अंदर कारोबार में अपना नाम बनाया। लार्ड रामी रेंजर ब्रिटेन के मशहूर कारोबारियों में से एक है।

15 अगस्त को भारत के स्वतंत्रता दिवस के दिन ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग के बाहार खालिस्तान या किसी के भी द्वारा कोई विरोध प्रदर्शन न हो इसके लिए लार्ड रामी रेंजर ब्रिटेन के गृह मंत्री को भी पत्र लिख रहे है। लार्ड रेंजर ने बताय कि जो लोग या संगठन खालिस्तान की बात करते हैं, उन्हें सबसे पहले अपना ब्रिटिश पासपोर्ट त्याग कर भारत जाना चाहिए और वहां राजनीतिक दल बनाना चाहिए न की यहा पर विरोध प्रदर्शन करके कुछ हासिल होगा। ”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here